बॉलीवुड

शादी के बाद ऐसा क्या हुआ कि अपने पति से 27 सालों तक अलग रहने को मजबूर हुई गायिका अल्का याग्निक

दिग्गज गायिका अल्का याग्निक आज अपना 55वां जन्मदिन मना रही है. अल्का महज 6 साल की उम्र से ही आकाशवाणी के लिए गाना गा रही है. वह बचपन में रेडियो से चिपककर लता मंगेशकर (Lata Mangeshkar) के गाने सुनतीं रहती थी. अल्का ने बॉलीवुड में वो दौर देखा है जब आइटम नंबर्स की बजाए शनदार लिरिक्स से सजे गानों को पसंद किया जाता था.

प्रसिद्ध गायिका अल्का ने ‘प्यार की झंकार’ और ‘मेरे अंगने में’ जैसे सुपरहिट गानों से अपने करियर की शुरुआत की थी. आज उनके गाये हुए गानों का हर कोई दीवाना हैं. उन्होंने शानदार एक से बढ़कर एक गाने हमें दिए है. अल्का ने बहुत ही छोटी सी उम्र 14 साल से ही म्यूजिक इंडसट्री के लिए गाना शुरू कर दिया था. अल्का ने अपने इस लम्बे से करियर में 2 हजार से ज्यादा गाने रिकॉर्ड किए है.

 

View this post on Instagram

 

A post shared by Alka Yagnik (@therealalkayagnik)


सिंगर अल्का याग्निक जब अपना मां के साथ मुंबई आई तो उस समय उनकी मां ने राजकपूर को एक पत्र लिखा था. बाद में जब राजकपूर ने अल्का की आवाज सुनी तो उन्होंने तुंरत उन्हें प्यारेलाल के पास भेज दिया. इस तरह अल्का को पहला काम मिला था. अल्का याग्निक का जन्म पश्चिम बंगाल के कोलकाता शहर में 20 मार्च, 1966 को हुआ था. अल्का गुजराती ​सिंगिंर परिवार से आती है.

अल्का ने अब तक कुल 16 भाषाओं में गानें गाये हैं. गायिका अल्का अपनी प्रोफेशनल जिंदगी में कभी नहीं रुकी, आज तक उन्होंने पूछे मुड़कर कही नहीं देखा. उन्होंने हर दम कामयाबी पाई है. लेकिन क्या आपको पता है इसके लिए उन्होंने अपनी जिंदगी में बहुत कुछ खोया भी है. भारत की सबसे सफलतम गायिका में से एक अल्का ने साल 1989 में शिलॉन्ग के बिजनेसमैन नीरज कपूर से शादी की थी. इसके बाद वह अपने पति के साथ रहने के बजाये उनसे अलग रही. अल्का शादी के बाद कोई एक या दो सालों के लिए नहीं बल्कि 27 सालो तक अपने पति से दूर रही थी.

ये थी पति से दूर रहने की वजह

अल्का के पति का घर शिलॉन्ग में था और उनका बिज़नेस भी वही सेट था. जबकि अल्का को मुंबई आना था. ताकि वह अपने सपने पुरे कर सके. इसलिए दोनों चाहकर भी एक दूसरे के साथ नहीं रह सकते थे. एक दूसरे से दूर रहने के चलते उनके रिश्ते में चुनौतियां सामने आईं लेकिन बावजूद इसके दोनों का प्यार समय के साथ और निखरता गया. इस दौरान उनके पति कई बार मुंबई आया जाया करते थे. इन सबके बीच अल्का ने अपने बच्चो की परवरिश खुद ही अकेले ही की थी. उन्होंने अकेले ही मुंबई में बच्चों को पाला.

अल्का ने इस बारे में एक बार इंटरव्यू में बताया था कि नीरज ने एक बार मुंबई में बिजनेस शुरू करने की कोशिश जरूर की थी. चूकी वह एक छोटे से शहर से थे इसलिए मुंबई में अपना बिज़नेस सेट नहीं कर पाए. मुंबई में बिज़नेस चलाने के चक्कर में उनका बहुत सारा पैसा बर्बाद हो गया. इसलिए मैंने ही उनसे कहा कि वापस जाकर शिलॉन्ग में ही अपना बिजनेस करें. इसके बाद अल्का के पति दोबारा से अपने घर गए. नीरज ने वही से अपना काम जारी रखा और दोनों प्रोफेशनल लाइफ में सफल रहे.

Back to top button
?>