चुटकुले

मज़ेदार जोक्स- सुबह-सुबह पत्नी ने कहा जल्दी से न्यूजपेपर दो! पति – तुम भी कितने पुराने ख्यालात

आजकल के भागदौड़ भरी इस जिंदगी में लगभग हर इंसान तनाव में रहता है. तनाव में रहने पर इंसान को तरह-तरह की बीमारियां घेरने लगती हैं. डॉक्टरों की मानें तो व्यक्ति तभी स्वस्थ रहेगा जब वह अंदर से खुश रहेगा और फिर वो कहावत तो आपने सुनी ही होगी कि ‘laughter is the best medicine’. इसलिए आज के इस पोस्ट में हम आपके लिए कुछ ऐसे मजेदार चुटकुले लेकर आये हैं जो आजकल सोशल मीडिया पर धमाल मचा रहे हैं और हमें यकीन है कि इन्हें पढ़ने के बाद आप भी हंसे बिना रह नहीं पाएंगे. तो देर किस बात की है? चलिए शुरू करते हैं हंसने-हंसाने का ये सिलसिला.

Joke-1

स्कूल में जब पहली बार पता चला

साइकलॉजी की स्पेलिंग C से या S से नहीं

बल्कि P से शुरू होती है कसम से

उसी दिन अंग्रेजी से भरोसा टूट गया |

Joke-2

पोते को सिगरेट पिता देख

दादा बोला – आज कल के बच्चों के संस्कार

जाने कहाँ चले गए हैं ?

उम्र में इनसे बड़ा आदमी बराबर में खड़ा है ,

पूछते भी नहीं

Joke-3

Joke-4

कल जो मैने एक बच्चे से पूछा : पढ़ाई कैसी चल रही है ?

उसका जवाब आया, अंकल समंदर जितना सिलेबस है

नदी जितना पढ़ पाते हैं ,बाल्टी जितना याद होता है

गिलास भर लिख पाते हैं , चुल्लू भर नंबर आते हैं

उसी में डूब कर मर जाते हैं !

Joke-5

टीचर- टेबल पर चाय किसने गिराई….?

इसे अपनी मातृभाषा में अनुवाद करो….!

छात्र- मातृभाषा मतलब मम्मी की भाषा…?

अध्यापक- हां….!छात्र- अरे कमीने… कर दिया ना धुली चादर का सत्यानाश…

पड़ गई ना दिल को शांति…

अब आने दो तेरे बापू को, वही धोएगा चादर को…!!

Joke-6

एक वृद्ध सज्जन ने एक कम्पनी के दफ्तर में जाकर मैनेजर से कहा-

आपके दफ्तर में मेरा लड़का काम करता है….

क्या मैं उससे मिल सकता हूं……?

मैंनेजर ने उसे गौर से देखा और कहा-खेद है कि आप देर से आये….!

आपका अंतिम संस्कार करने के लिए….

छुट्टी लेकर अभी-अभी गया है….!!

Joke-7

जब गर्लफ्रेंड हद से ज्यादा

बदतमीजी करने लग जाए,

तो समझ जाओ…

वो मानसिक रूप से आपकी

पत्नी बनने के लिए तैयार है…!

Joke-8

एक सच्ची सलाह

अगर पत्नी बहुत किर्रकिर्र करें,

मगज खराब करें, तो बस चप्पल उठाओ

और पहन कर बाहर निकल जाओ

बाकी जो आपने अभी सोचा था,

उसके लिये तो भाई जिगरा चाहिये , जिगरा…

Joke-9

सारे तूफानों के नाम स्त्रीलिंग में है.

जो नारियों का बहुत बड़ा सम्मान है

जैसे- ओखी, कटरीना, लीजा, लैरी, सुनामी ,बुलबुल, तितली वगैरा..

जो घंटों तक तबाही मचाते हैं.

वहीं पुल्लिंग के नाम पर केवल एक मात्र “भूकंप ” है.

जो बेचारा ज्यादा से ज्यादा 10-15 सेकेंड फड़फड़ा कर शांत हो जाता है !!

Back to top button
?>