ब्रेकिंग न्यूज़

खुलासा: सोशल मीडिया के जरिये किया जा रहा है कश्मीरी युवाओं को गुमराह!

आज का समय पूरी तरह से सोशल मीडिया का समय है। सोशल मीडिया के इस दौर में हर व्यक्ति पत्रकार है। आज शायद ही कोई पढ़ा-लिखा व्यक्ति होगा जो सोशल मीडिया का इस्तेमाल नहीं करता होगा। आये दिन सोशल मीडिया पर कुछ ना कुछ वायरल हो जाता है। इसका असर दूर तक होता है। पहले ऐसा नहीं था।

किसी छोटी जगह पर घटने वाली घटनाओं को केवल आस-पास के लोग ही जान पाते थे। जबकि आज ऐसा नहीं है। आज के समय में सोशल मीडिया की बदौलत पूरा देश और दुनिया जान पा रही है। जैसा की कहा जाता है, हर सिक्के के दो पहलू होते हैं, ठीक वैसे ही सोशल मीडिया से कुछ फायदे हैं तो कुछ नुकसान भी हैं।

सामाजिक संतुलन बिगाड़ने का होता है काम:

फायदों के बारे में तो आप जान ही चुके हैं। अगर बात नुकसान की करें तो सोशल मीडिया पर कई बार अफवाह भी बड़ी तेजी से फैलती है, जो सामाजिक संतुलन बिगाड़ने का काम करती है। ऐसा ही कुछ आजकल कश्मीर में हो रहा है। जी हां वहां के युवाओं को भड़काने के लिए इस समय फेसबुक का इस्तेमाल किया जा रहा है।

फेक प्रोफाइल बनाकर जुटाया जा रहा है समर्थन:

कश्मीरी युवाओं को फेसबुक पर गलत प्रचार करके गुमराह किया जा रहा है। इस समय कश्मीर के पत्थरबाज फेसबुक और अन्य सोशल मीडिया साइटों पर फेक प्रोफाइल बनाकर लोगों से समर्थन जुटाने का काम कर रहे हैं। आपको जानकर हैरानी होगी कि इन प्रोफाइलों पर जो फोटो लगाई गयी हैं, वह पत्थरबाजी की ही हैं।

कहीं और से कर रहे हैं अपना काम:

कुछ प्रोफाइलों का नाम ही कश्मीरी स्टोन पेल्टर रखा गया है। सोशल मीडिया पर बढ़ रहे इस तरह के काम को देखते हुए भले ही घाटी में नेट बंद कर दिया गया हो, लेकिन इससे पत्थरबाजों को कोई नुकसान नहीं हो रहा है। वह देश के अन्य हिस्सों से अपना काम बेखौफ और बेरोक-टोक के ही कर रहे हैं।

कुछ प्रोफाइलों पर भारत के पड़ोसी देश पाकिस्तान का राष्ट्रीय झंडा लगाया गया है और उनके स्टेटस में भारतीयों के लिए गलत शब्दों का प्रयोग भी किया गया है। इसको देखते हुए यह समझा जा रहा है कि यह काम पाकिस्तान से भी ऑपरेट हो सकता है।

Show More

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

Back to top button