बॉलीवुड

गोविंदा के पैदा होने से खुद नहीं थे पिता, गोद में भी नहीं लेते थे, वजह चौंका देगी

गोविंदा (govinda) 90 के दशक के सुपरहिट हीरो हैं। उन्होंने अपने फिल्मी करियर में कई हिट फिल्में दी हैं। वर्तमान में गोविंदा फिल्मों में कम ही नजर आते हैं। हालांकि एक जमाना ऐसा भी था जब उनके पास फिल्मों की लाइन लगी रहती थी। गोविंदा की डेब्यू फिल्म ‘इल्जाम’ थी। हालांकि इस उन्होंने पहली फिल्म ‘लव 86’ साइन की थी, लेकिन इल्जाम पहले रिलीज हो गई।

गोविंदा की प्रोफेशनल लाइफ के बारे में तो आप सभी ने बहुत कुछ सुन रखा है। लेकिन आज हम उनकी पर्सनल लाइफ से जुड़ा एक दिलचस्प किस्सा सुनाने जा रहे हैं। ये किस्सा गोविंदा के जन्म से जुड़ा है। गोविंदा का जन्म 21 दिसंबर 1963 को मुंबई में हुआ था। जब वे पैदा हुए थे तो उनके पिता अरुण आहूजा ने उन्हें गोद में लेने से मना कर दिया था। इस बात का जिक्र खुद गोविंदा ने एक इंटरव्यू में किया था।

इस इंटरव्यू में गोविंदा ने बताया था कि जब मैं मां (निर्मला देवी) के पेट में था तो वह साध्वी बन गई थी। ऐसे में वह पिताजी के साथ रहती जरूर थी लेकिन एक साधवी की तरह। फिर कुछ माह बाद मैं पैदा हुआ। पापा ने मुझे गोद में लेने से मना कर दिया। उन्हें यह लगा कि मेरी वजह से मां उनसे अलग होकर साधवी बन गई है। लेकिन बाद में लोगों ने जब उनसे कहा कि कितना सुंदर बच्चा है, कितना अच्छा बेटा है तो उन्होंने मुझ से प्यार जताना शुरू कर दिया।

 

गोविंदा ने ये भी बताया था कि उनकी मां उन्हें एक्टर नहीं बनाना चाहती थी। उनकी इच्छा थी कि गोविंदा बैंक की जॉब करें। हालांकि उनके पिता ने गोविंदा को एक्टर बनने में पूरा सपोर्ट किया। वे गोविंदा से कहते थे कि तुम अच्छा लिखते हो, अच्छे दिखते हो और बढ़िया एक्टिंग भी करते हो। तुम्हें फिल्मों में हाथ आजमाना चाहिए। जॉब ढूँढने की क्या जरूरत है।

 

बताते चलें गोविंदा के 6 भाई बहन है। वे सभी में सबसे छोटे हैं। उन्होंने महज 21 साल की उम्र में पहली फिल्म साइन कर ली थी। इतना ही नहीं 21 की उम्र में ही सिर्फ 50 दिन के अंदर उन्होंने 49 फिल्में साइन की थी। उनके स्टारडम से इंडस्ट्री के कई लोग जलने लगे थे।

उन्हें एक के बाद एक कई फिल्मों के ऑफर मिल रहे थे। ये बात कुछ लोगों को हजम नहीं हो रही थी। इसलिए उनके खिलाफ बॉलीवुड में ग्रुपिज्म और गैंग स्टार्ट हो गई थी। उनसे फिल्मों के ऑफर छीने तक जाने लगे थे। लोगों ने उन्हें एक तरह से किनारा कर दिया था।

Show More
Back to top button