समाचार

60 से ऊपर उम्र वालों को 1 मार्च से लगेगा कोरोना का टीका, इस अस्पताल में होगा फ्री टीकाकरण

कोरोना वायरस के मामलों में फिर से तेजी आ रही है। ऐसे में सरकार अब कोरोना वायरस टीकाकरण अभियान ओर तेजी से शुरू कर रही है। सरकार की ओर से कोरोना वायरस के टीकाकरण अभियान का दायरा ओर बढ़ा दिया गया है और अब प्राइवेट केंद्रों पर भी टीकाकरण तेजी से किया जाएगा। सरकार की ओर से बनाई गई योजना के तहत 1 मार्च से देश के 10 हजार सरकारी केंद्रों और 20 हजार से ज्यादा प्राइवेट केंद्रों पर 60 साल उम्र से ज्यादा वाले लोगों को कोरोना वैक्सीन दी जाएगी।

केंद्र सरकार ने आज इसकी घोषणा करते हुए कहा कि सरकारी अस्पतालों में लोगों को मुफ्त में ही कोरोना का टीका लगाया जाएगा। यानी जो लोग सरकारी अस्पतालों में जाकर कोरोना का टीका लगाते हैं। उन्हें पैसे नहीं देने होेंगे। वहीं जो लोग प्राइवेट सेंटर या अस्पतालों में कोरोना वैक्सीन लगाते हैं उन्हें खुद से भुगतान करना होगा। वहीं वैक्सीनेशन के दूसरे फेज में 45 साल से ऊपर वाले वैसे लोगों को भी टीका लगाया जाएगा। जिनमें को-मॉर्बिडिटीज हैं।

केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने इसके बारे में अधिक जानकारी देते हुए कहा कि जो लोग प्राइवेट अस्पताल में कोरोना का वैक्सीन लेना चाहते हैं। उन्हें पैसे चुकाने होंगे। स्वास्थ्य मंत्रालय अगले 2-3 दिन में कोरोना वैक्सीन की कीमत तय कर देगी। इन्होंने आगे कहा कि मंत्रालय इस वक्त कोरोना वैक्सीन निर्माताओं और अस्पतालों से इस बारे में बात कर रहा है। 1 मार्च से शुरू हो रहे टीकाकरण में 10,000 सरकारी और 20,000 प्राइवेट टीकाकरण सेंटर्स में टीकाकरण किया जाएगा। सरकारी केंद्रों में मुफ्त में टीके लगवाए जाएंगे।

दरअसल इससे पहले कुछ ही निजी अस्पतालों में कोरोना का टीका लगाया जा रहा था। वहीं कोरोना के केसों में एकदम से आई बढ़ोतरी के बाद सरकार ने टीकाकरण की गति को बढाने के लिए निजी अस्पतालों का ओर उपयोग करने का फैसला किया है। केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने कहा कि देश भर के दस हजार अस्पतालों में कोविड-19 टीकाकरण किया जा रहा है और इनमें से दो हजार निजी अस्पताल हैं। टीकाकरण के लिए एक दिन में करीब दस हजार अस्पतालों का इस्तेमाल किया जा रहा । इनमें से दो हजार अस्पताल निजी हैं। आने वाले दिनों में टीकाकरण की गति एवं इसके कवरेज को बढ़ाने के लिये और अधिक निजी अस्पतालों का इस्तेमाल किया जाएगा।

1 करोड़ लोगों का हुआ है टीकाकरण

बुधवार को प्रकाश जावड़ेकर ने कहा कि अब तक देश में टीकाकरण कार्यक्रम के तहत 1 करोड़ 7 लाख 67 हजार लोगों का टीकाकरण हुआ है। जबकि 14 लाख से ज्यादा लोगों को वैक्सीन की दूसरी खुराक दी गई है। गौरतलब है कि एक व्यक्ति को कोरोना की दो खुराक दी जा रही हैं। दूसरी खुराक पहली खुराक लगने के 28 दिन बाद दी जाती है।

Back to top button