समाचार

किसानों के चक्काजाम से पहले सिंघु बॉर्डर आया लक्खा सिधाना, दिल्ली पुलिस ने रखा है एक लाख इनाम

गणतंत्र दिवस पर ट्रैक्टर रैली के दौरान उग्र हुए लोगों ने दिल्ली की सड़कों पर काफी हंगामा किया था और पुलिसकर्मियों के साथ मारपीट की थी। इस हिंसा में शामिल कई आरोपियों को दिल्ली पुलिस पकड़ चुकी है, जबकि कई आरोपियों की तलाश में दिल्ली पुलिस लगी हुई है। दिल्ली पुलिस कई दिनों से आरोपी लक्खा सिधाना की तलाश भी कर रही है। लेकिन अभी तक इसे पकड़ा नहीं जा सका है। लक्खा सिधाना पर आरोप है कि इसने ट्रैक्टर रैली के दौरान हिंसा करने के लिए लोगों को भड़काया था। वहीं लोगों को भड़काने के बाद से ये फरार था। लेकिन आज किसानों के देशव्यापी चक्काजाम से पहले ये पंजाब से दिल्ली लौट आया है।

लक्खा शुक्रवार शाम सिंघु बॉर्डर से ही सोशल मीडिया पर लाइव गया और इसने आंदोलन को लेकर भाषण दिया। इसने कहा कि पंजाब को ही इस किसान आंदोलन की अगुआई करनी चाहिए। इसने किसान नेताओं से भी अपील की है कि किसी को भी 32 जत्थेबंदियों की कमेटी से बाहर ना किया जाए। शुक्रवार को दिल्ली आकर इसने सोशल मीडिया पर लाइव जाकर किसान नेताओं कोे सलाह दी और कहा कि पता चला है कि सुरजीत सिंह फूल और एक अन्य किसान नेता को कमेटी से बाहर कर दिया गया है। जो कि गलत है।

इसने आगे कहा कि सरकार से बातचीत होने पर सभी को एक साथ जाना है। कमेटी को छोटा नहीं करना है। अभी एक रहने का समय है। एक साथ रहकर लड़ने की जरूरत है। आपसी गिले-शिकवे बाद में सुलझाते रहेंगे। अभी ऐसी कोई गलती नहीं करनी है जिससे आंदोलन टूट जाए। ये पंजाब के अस्तित्व और आने वाली नस्लों की लड़ाई है। अगर इस बार हार गए तो पंजाब सदियों पीछे चला जाएगा।

लक्खा ने गाजीपुर बॉर्डर का उदाहरण देते हुए कहा कि जिस तरह वहां किसान आंदोलन का मंच राजनेताओं का ठिकाना बनता जा रहा है, वह गलत है। सिंघु और टीकरी बॉर्डर पर इस तरह से किसी भी राजनीतिक दल के नेताओं को एंट्री न दें।

गौरतलब है कि दिल्ली पुलिस आरोपी सिधाना की तलाश कई दिनों से कर रही है। वहीं दूसरी तरफ ये आरोपी बार-बार सोशल मीडिया पर आकर लोगों को भाषण दे रहा है। इसके सोशल मीडिया पर एक्टिव होने से पुलिस को काफी दिक्कत हो रही है। क्योंकि अभी तक ये पुलिस के हत्थे नहीं चढ़ा है। इसने दो दिन पहले भी एक वीडियो जारी की थी। जो कि पंजाब में एक गुरुद्वारे में बनाई गई थी। इस वीडियो में इसने कहा था कि वो दिल्ली से पंजाब आया है। साथ में ही इसने ये अपील भी की थी कि 6 फरवरी को हर घर से लोग बड़ी संख्या में पंजाब की सड़कों पर उतरें और अपनी ताकत दिखाएं। इस आरोपी पर दिल्ली पुलिस की ओर से एक लाख का इनाम रखा गया है।

Back to top button