….जब पीएम मोदी ने कचरे को रख लिया अपनी जेब में! – देखें वीडियो

नई दिल्ली – स्वच्छ भारत मिशन को 2 अक्टूबर 2014 को राष्ट्रीय आंदोलन के रूप में पूरे देश में शुरू किया गया था। स्वच्छता आंदोलन का नेतृत्व करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने लोगों को महात्मा गांधी के स्वच्छ और स्वस्थ भारत के सपने को पूरा करने के लिए प्रोत्साहित किया। स्वच्छ भारत मिशन को शुरू किए दो साल से अधिक का समय हो चुका है, पीएम मोदी का यह मिशन भी सफल रहा। अपने मिशन को एक बार फिर दोहराते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने फिर से सफाई की मिशाल पेश की है। लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन की पुस्तक मातोश्री के विमोचन के मौके पर पीएम मोदी ने कुछ ऐसा किया कि वहां मौजूद सभी लोग तालियां बजाने लगे। PM Modi put waste in pocket.

PM Modi put waste in pocket

स्वच्छ भारत मिशन का पीएम मोदी के लिए है काफी मायने –

प्रधानमंत्री मोदी के लिए निश्चित रूप यह मिशन सबसे से ज्यादा मायने रखता है। हमने कई बार देखा है कि वह अभियान के लिए कड़ी मेहनत करते हैं। हमें याद है कि उन्होंने खुद झाड़ू उठाकर सड़कों को कैसे साफ किया। पीएम मोदी ने क्रिकेटर विराट कोहली को मैदान से खाली बोतलें उठाकर कचरे के डब्बें में डालने की सराहना की।

प्रधानमंत्री मोदी ने आकाश जैन और उनके परिवार के प्रयासों की भी सराहना की, जिन्होंने अपनी लड़की की शादी के कार्ड पर स्वच्छ भारत के लोगो को प्रिंट करवाया था। आज एक ऐसा पल सामने आया जहां प्रधानमंत्री मोदी ने एक बार फिर स्वच्छता का उदाहरण पेश किया। उन्होंने कुछ ऐसा किया जो कोई अन्य राजनीतिक नेता नहीं कर सकता, वह भी स्टेज पर हजारों लोगों के सामने।

पीएम मोदी ने कचरा उठा कर डाल लिया अपनी जेब में –

संसद की लाइब्रेरी बिल्डिंग के आडिटोरियम में मंगलवार की शाम 6.30 बजे लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन की इंदौर की महारानी अहिल्याबाई के जीवन पर आधारित पुस्तक मातोश्री के विमोचन के मौके पर पीएम मोदी ने विमोचन के बाद भी पुस्तक के पैकिंग पेपर हाथ में ही पकड़े रखा। फिर कुछ देर तक पैकिंग पेपर को हाथ में पकड़े रहने के बाद उसे मोड़ा और अपनी जेब में रख लिया।

पीएम को उस रद्दी पैकिंग पेपर को अपनी जेब में रखते देख दर्शक दीर्घा में मौजूद लोग अपनी सीट से खड़े हो गए और जोरदार तालियां बजाकर उनके इस कार्य को सराहा। गौरतलब है कि स्वच्छता अभियान को प्रधानमंत्री मोदी ने ही शुरू किया था। गंदगी को साफ करने के लिए खुद झाड़ू उठाकर, स्वच्छ भारत अभियान को पूरे देश में सबसे बड़ा आंदोलन बताते हुए, उन्होंने ‘ना गंदगी करेंगे, ना करने देंगे’ का मंत्र दिया था।

देखें वीडियो –

https://youtu.be/C66X7Cqb8bA

Leave a Reply

Your email address will not be published.

16 + three =