राजनीति

कुलभूषण की मौत से फैले तनाव के बीच नवाज शरीफ ने दी भारत को धमकी, बोला हमारी सेनाएं हैं तैयार!

भारत और पाकिस्तान के बीच रिश्ते कभी भी लम्बे समय तक ठीक नहीं रहे हैं। जैसे ही भारत कुछ उपाय करके दोनों देशों के बीच शांति बरकरार करने की कोशिश करता है। ठीक उसी समय पाकिस्तान कुछ ना कुछ ऐसा कर देता है, जिससे दोनों देशों की शांति भंग हो जाती है। सर्जिकल स्ट्राइक के बाद दोनों देशों के हालात धीरे-धीरे सुधर रहे थे, तभी अचानक पाकिस्तान ने भारतीय नागरिक कुलभूषण को फांसी की सजा सुनाकर एकबार फिर माहौल गर्म कर दिया है।

नवाज दिखा रहे हैं उल्टा भारत को आंख:

जैसे ही पाकिस्तान ने कुलभूषण को फांसी की सजा सुनाई दोनों देशों के बीच एक बार फिर तनाव बढ़ गया। केवल यही नहीं पाकिस्तान के इस कदम की विश्वभर में निंदा की जा रही है। इसके बावजूद पाकिस्तान को इससे कोई फर्क नहीं पड़ रहा है और पाकिस्तानी प्रधानमंत्री नवाज शरीफ उल्टा भारत को आंख दिखाने की कोशिश कर रहे हैं। नवाज शरीफ ने खुद को शरीफ दिखाते हुए कहा कि हम अपने पड़ोसियों से दोस्ताना व्यवहार रखते हैं। हम एक शांतिप्रिय देश हैं। इसके बावजूद अगर हमारे ऊपर किसी तरह का खतरा आता है तो उससे निपटने के लिए हमारी सेनाएं तैयार बैठी हैं।

आतंकवाद की समस्या में आयी है काफी कमी:

कुलभूषण को मौत की सजा सुनाए जाने के बाद पाकिस्तानी प्रधानमंत्री शरीफ का यह पहला बयान है। ज्ञात हो कि नवाज शरीफ ने ये सभी बातें पाकिस्तानी एयरफोर्स को संबोधित करते हुए कहीं। नवाज शरीफ ने आगे कहा कि हमारा देश हमेशा शांति चाहता है लेकिन हम अपने देश की सुरक्षा का भी उतना ही ध्यान रखेंगे। अपने संबोधन के दौरान उन्होंने आतंकवाद की समस्या पर भी बोला। उन्होंने कहा कि आतंकवाद की समस्या में पिछले दिनों की अपेक्षा काफी कमी आयी है।

पाकिस्तान पर बनायेंगे राजनैतिक दबाव:

पाकिस्तान में कुलभूषण को फांसी की सजा सुनाये जाने के बाद पूरे देश में खलबली मची हुई है। वहीं विपक्ष भी सरकार को घेरते हुए इस मामले में जवाब मांग रही है। गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने लोकसभा में कहा कि जब कुलभूषण के पास भारत का वैध पासपोर्ट है तो पाकिस्तान कैसे उसे एक जासूस ठहरा सकता है। राजनाथ सिंह ने आगे कहा कि सरकार अपनी तरफ से कुलभूषण को बचाने की पूरी कोशिश करेगी। हम पाकिस्तान पर राजनैतिक दबाव बनायेंगे और उसके नापाक इरादों को सफल नहीं होने देंगे।

Show More

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

Back to top button
Close