बॉलीवुड

सिद्धार्थ पिठानी पर गहराता जा रहा है शक का घेरा, सुशांत के पिता ने किया हत्या पर बड़ा खुलासा

बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजूपत के पिता के वकील विकास सिंह ने सिद्धार्थ पिठानी को शातिर अपराधी बताया है। वकील विकास सिंह ने कहा है कि सिद्धार्थ पिठानी संदिग्‍ध चरित्र का व्‍यक्ति है और इससे पूछताछ की जानी चाहिए। आपको बता दें कि सिद्धार्थ पिठानी सुशांत के फ्लैटमेट थे और 14 जून को सिर्फ सिद्धार्थ पिठानी ने ही सुशांत को पंखे से लटका हुआ देखा था।

एकदम से बदला अपना पक्ष

वकील विकास सिंह ने सिद्धार्थ पिठानी के बारे में बात करते हुए कहा कि सुशांत के पिता द्वारा पटना में एफआइआर दर्ज कराने तक वो सुशांत के परिवार से नियमित संपर्क में था। लेकिन जैसे ही रिया और उसके परिवार वालों के खिलाफ केस दर्ज हुआ। तो सिद्धार्थ पिठानी बदल गया और रिया की तरफ चले गया। सिद्धार्थ को गिरफ्तार कर पूछताछ करने से ही मामले की सच्‍चाई सामने आ सकेगी।

चाबीवाले को भेजने के बाद खोला दरवाजा

सुशांत के कमरा ना खोलने पर सिद्धार्थ पिठानी ने सुशांत की बहन को फोन किया था और चाबी वाले को बुलाया था। चाबी वाला 10 मिनट के अंदर ही घर आ गया था। वहीं चाबी बनते ही सिद्धार्थ पिठानी पहले चाबी वाले को दरवाजे तक छोड़ने गया और उसके बाद ही उसने सुशांत के कमरे को खोला। विकास सिंह का कहना है कि सुशांत के रूम की चाबी बनने के तुरंत बाद दरवाजा क्यों नहीं खोला गया। दरवाजा खोलने की जगह सिद्धार्थ पिठानी ने पहले चाबी वाले को बाहर तक छोड़ना क्यों जरूरी समझा? जब उसने दरवाजा खोला तो तुंरत सुशांत के शव को बेड पर क्यों रखा दिया? उसने क्यों सुशांत की बहन के आने का इंतजार नहीं किया, जो कि थोड़ी ही देर में पहुंच गई थी।

वहीं एक टीवी चैनल से बात करते हुए सिद्धार्थ पिठानी ने ये बात कबूली थी कि रिया सुशांत का इलाज करवा रही थी और सिद्धार्थ ही सुशांत को दवाई खाने के लिए दिया करता था। वहीं जब चैनल के एंकर ने सिद्धार्थ पिठानी से ये पूछा कि वो किस चीज की दवाई थी। इसपर सिद्धार्थ पिठानी चुप हो गया। इसके अलावा सिद्धार्थ पिठानी की और से बार-बार अपना बयान भी बदला जा रहा है।

गर्दन के निशान पर भी है संदेह

सुशांत के पिता की और से सुप्रीम कोर्ट में कहा गया है कि सुशांत की तस्वीरें देखने से लगता है कि उसे मारा गया है। उनके बेटे को फांसी लगाते किसी ने नहीं देखा। जब उनकी बेटी सुशांत के फ्लैट पहुंची तो शव बिस्तर पर पड़ा था। सुशांत की गर्दन पर निशान थे। जिससे की परिवार को संदेह है कि सुशांत की हत्या की गई है।

गौरतलब है कि सुशांत सिंह की मौत 14 जून को हो गई थी। मौत के बाद ये कहा जा रहा था कि सुशांत ने आत्महत्या की है। वहीं सुशांत के पिता ने इस मामले में पटना में केस दर्ज करवाया है और रिया और उसके परिवार वालों पर शक जाहिर किया है। सुशांत के पिता ने केस दर्ज करते हुए कहा है कि रिया और उसके परिवार वालों की वजह से ही उनके बेटे ने ये कदम उठाया था।

Back to top button
?>