जिनकी जिंदगी एसी के बगैर कटती नहीं हो, जिनके हाथों में लोगों ने सिर्फ कलम देखी हो, अगर उन्हीं हाथों में अचानक किसी को झाड़ू दिखे, तो इसमें किसी को भी आश्चर्य नहीं करना चाहिए क्योंकि आजकल उत्तर प्रदेश के सरकारी महकमों का नजारा कुछ इसी तरह दिख रहा है. उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ के मुख्यमंत्री बनते ही प्रदेश के सारे आलाअधिकारी हरकत में नजर आ रहे हैं. यही कारण है कि अब सरकारी बाबूओं और महकमों का रंग-रूप एकदम बदला नजर आ रहा है. दरअसल, हुआ यूं कि सरकारी कार्यालयों के एसी कमरों में बैठने वाले अधिकारियों के हाथों में जब लोगों ने झाड़ू देखा, तो खुद को तस्वीरें लेने से नहीं रोक पाये.

डीएम चंद्रकला ने खुद लगाया झाड़ू:

दरअसल, पिछले कई दिनों से यूपी के अधिकारियों के हाथों ने झाड़ू को थाम लिया. इस कड़ी में यूपी की पॉपुलर और फायरब्रांड डीएम चंद्रकला का नाम भी जुड़ गया है. जी हां! जब लोगों ने इस जाबांज डीएम को कलेक्ट्रेट परिसर में नंगे पैर झाड़ू लगाते देखा तो वहां मौजूद लोग इस खास और अद्भुत पल को अपने कैमरे में कैद करने लगे.

कर्मचारियों को शपथ दिलवाई:

आपको बता दें कि सीएम योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर सभी जिलों के अधिकारियों ने स्वच्छता अभियान की कमान संभाल ली है. इसी सिलसिले में डीएम ने कर्मचारियों को स्वच्छता की शपथ दिलाई और लोगों को प्रेरित करने के लिए खुद अपने हाथों में झाड़ू थाम लिया और सफाई में जुट गईं.

सफाई अभियान के दौरान डीएम चंद्रकला ने कहा, जब हम अपना ऑफिस ही साफ नहीं रखेंगे तो कैसे स्वच्छता का संदेश दूसरों देंगे. इसके अलावा उन्होंने  जिले के कर्मचारियों को सख्त निर्देश देते हुए कहा कि हर महकमे के कर्मचारी अपने कार्यालय की सफाई खुद करें.

लोगों को दी साफ-सफाई की प्रेरणा:

आपको बता दें कि डीएम साहिबा ने सिर्फ झाड़ू नहीं लगाया, बल्कि उन्होंने परिसर में स्थित कर्मचारी सुधाकर शर्मा की मूर्ति को भी साफ किया. इस दौरान वो लोगों के आकर्षण का केंद्र थीं. उनके अलावा पुलिस महकमे के सभी कर्मचारी हाथों में  झाड़ू लिए पुलिस लाइन को भी साफ-सुथरा करते दिखे.

गौरतलब है कि दो दिन पहले ही पीएम मोदी ने बी. चंद्रकला को प्रमोट कर स्वच्छ भारत अभियान का निदेशक बना दिया है.

***

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!