अध्यात्म

सूर्यास्त के बाद अगर करते हैं ये 5 काम तो फौरन लगा दें रोक, नहीं तो हो जाएगी बड़ी समस्या

सूरज ढलने के बाद कुछ काम ऐसे होते हैं जो नहीं करने चाहिए ताकी हम परेशानियों से दूर रहें

हमारे दिन की शुरुआत सूरज उगने के साथ होती है, लेकिन दिन ढलने के बाद भी हमारा काम नहीं रुकता और कई बार ये ही हमारी समस्या बन जाता है। परौणिक कथाओं और ज्योतिष शास्त्र की मानें तो सूरज अस्त होने के बाद कुछ काम नहीं करने चाहिए। आजकल की भागदौड़ भरी जिंदगी में हम सब कम से कम वक्त में ज्यादा काम खत्म करना चाहते हैं। ऐसे में हम इन सारी बातों पर ध्यान नहीं देते की कुछ काम ऐसे हैं जिन्हें सूरज डूबने के बाद रोक देना चाहिए। अगर आपको लगातार परेशानी बनी रहती है या आपकी समस्याएं कम होने का नाम ही नहीं ले रहीं तो फिर अपनी इन गलतियों को फौरन सुधार लें। आपको बताते हैं कि कौन सो वो काम हैं जो सूरज ढलने के बाद नहीं करने चाहिए।

रात में कपड़े धोना

ज्योतिष शास्त्र की मानें तो कपड़े धोने का सही समय सिर्फ सुबह का होता है। रात के वक्त कपड़े नहीं धुलने चाहिए। जब आप सुबह कपड़े धूलेंगे तो फिर उसे सूरज की गर्मी में सुखने में मदद मिलेगी। वहीं रात में धूले कपड़े ना ही सूख पाते हैं और ना ही उनकी महक जाती है। मान्यता के अनुसार खुले आसमान में सूरज ढलने के बाद कपड़े फैलाने से कपड़ों में नकारात्मक उर्जा प्रवेश कर जाती है।

रात में ना पीएं सफेद दूध

दूध को सुबह के लिए सबसे अच्छा पेय पदार्थ माना जाता है। इसे पीने से दिन भर आपका पेट भरा महसूस करता है। वहीं शाम होने के बाद दूध आपको नुकसान कर सकता है। दरअसल दूध की तासीर ठंडी होती है। ऐसे में शाम के बाद दूध पीना हो तो उसमें हल्दी या केसर मिला लें। अगर कुछ नहीं मिल रहा हो तो हल्का सा गुड़ ही मिला लें। इससे भी आपकी तबीयत अच्छी बनी रहेगी।

सूर्यास्त के बाद ना लगाएं चंदन

बहुत से लोगों की आदत होती है कि अगर वो सुबह नहीं नहाते तो शाम में नहा लेते हैं। सबसे पहले ये जान लें कि पौराणिक मान्यताओं और स्वास्थ्य दोनों के लिहाज से सुबह नहाना ही सबसे सही माना गया है। अगर इसके बाद भी आप शाम में नहाते हैं तो भूलकर भी माथे पर चंदन ना लगाएं। इससे सेहत बिगड़ सकती है।

खाना ढकना ना भूलें

रात के समय अगर दूध या खाना बच गया है तो उसे खुला ना छोड़ें। इन्हें हमेशा बर्तन से ढककर रखना चाहिए अगर खाने को या दूध को खुला छोड़ेंगे तो उसमें नकारात्मक उर्जा प्रवेश कर सकती है। इसके अलावा उसमें कोई  गंदगी भी पड़ सकती है जिसका सेवन करने से आपके शरीर पर बुरा प्रभाव पड़ सकता है।

सूरज ढलने के बाद नो शेविंग

पहले के जमाने में लोग शाम के बाद बाल नहीं बनवाते थे इसके पीछ सिर्फ लाइट होना ही एक वजह नहीं थीं। अगर शाम के बाद आप बाल कटवाते हैं या दाढ़ी बनवाते हैं तो इससे शरीर में नकारात्मक शक्तियों का प्रवेश हो सकता है। शेविंग और बाल कटवाने के बाद नहाना सही माना जाता है। इससे शरीर पर गिरे बाल हट जाते हैं पर रात में नहाने से सर्दी-जुकाम की समस्या हो जाती है। इन्हीं कारणों से सूरज ढलने के बाद इन कामों को रोक देना चाहिए और सुबह ही कर लेना चाहिए।

Show More
Back to top button