दिलचस्प

अयोध्या में खुदाई के दौरान मिली कई मूर्तियां, राम मंदिर होने के सुबूत पुख्ता होते दिख रहे हैं.

राम जन्मभूमि में समतलीकरण के दौरान मंदिर के अवशेष मिले हैं, जिसमें आमलक, कलश, पाषाण के खंभे और चौखट शामिल हैं. |

अयोध्या में राम मंदिर बनाने का काम किया जा रहा है और राम जन्म भूमि में जल्द ही राम जी का मंदिर बनकर तैयार हो जाएगा। अयोध्या में राम मंदिर बनाने के लिए खुदाई का काम जोरो से किया जा रहा है। वहीं खुदाई करते हुए कुछ ऐतिहासिक अवशेष भी मिले हैं। जो कि भगवान की मूर्तियां और चौखट हैं। समतलीकरण कार्य के दौरान अयोध्या से मिले ये अवशेष इस और इशारा करते हैं कि इस जगह पर कई सालों पहले राम जी का मंदिर हुआ करता था और इस मंदिर में ये मूर्ति रखी गई थी।

राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट की तरफ से जानकारी देते हुए कहा गया है कि समतलीकरण कार्य के दौरान कई ऐतिहासिक अवशेष मिले हैं, जो कि पुरातात्विक मूर्तियां खंभे, शिवलिंग, आमलक, कलश और चौखट हैं।

श्रीराम जन्म भूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के महासचिव चंपत राय के अनुसार अभी तक जहां खुदाई की गई है वहां से देवी-देवताओं की खंडित मूर्तियां, पुष्प कलश, कलाकृतियां और आदि चीजें निकली हैं।

ट्रस्ट की ओर से अवशेष मिलने की जानकारी देते हुए बताया गया है कि इन अवशेषों में देवी देवताओं की खंडित मूर्तियां, कई तरह के कलाकृतियों के पत्थर, 7 ब्लैक टच स्टोन के स्तंभ, 6 रेड सैंड स्टोन के स्तंभ और 5 फुट आकार के नक्काशीयुक्त शिवलिंग की आकृति मिली है।

निरीक्षण के बाद देंगे विस्तार में जानकारी

हालांकि ये अवशेष कितने पुराने हैं और इनसे जुड़ी अन्य जानकारी अभी मुहैया नहीं करवाई गई है। कहा जा रहा है कि विशेषज्ञों के निरीक्षण के बाद ही ट्रस्ट इन अवशेषों के बारे में विस्तार रूप से जानकारी देना वाला है।

लॉकडाउन में भी काम है जारी

लॉकडाउन के दौरान भी राम जन्म भूमि परिसर में खुदाई का काम जारी है और तीन जेसीबी मशीन, एक क्रेन, दो ट्रैक्टर और 10 मजदूर खुदाई का काम कर रहे हैं। ये काम अभी और दिनों तक चलने वाला है और ऐसे में उम्मीद की जा रही है कि खुदाई के दौरान और भी अवशेष मिल सकते हैं। खुदाई के इस कार्य को चम्पत राय, विमलेंद्र मौहन प्रताप मिश्र, डॉ अनिल मिश्र और श्री रामजन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के अन्य ट्रस्टी की मौजूदगी में किया जा रहा है।

चंपत राय के अनुसार इस कार्य को चरणबद्ध तरीके से किया जा रहा है और इन पुरातात्विक वस्तुओं को ट्रस्ट द्वारा संरक्षित किए जाने पर भी विचार किया जा रहा है।

जन्मभूमि परिसर में राम मंदिर निर्माण के लिए किए जा रहे इस कार्य के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग का भी खासा ध्यान रखा जा रहा है  और मजदूर दूरी बनाकर ही कार्य कर रहे हैं।

बनाया जा रहा है भव्य मंदिर

गौरतलब है कि सरकार की और से अयोध्या में राम जी के भव्य मंदिर का निर्माण किया जा रहा है और ये निर्माण कार्य तेजी से हो रहा है। ताकि जल्द ही अयोध्या में राम जी का भव्य मंदिर बनाकर तैयार हो जाए। राम मंदिर ट्र्स्ट ये मंदिर बनाने के लिए राज्य के बाहर से मजदूरों को बुलाना चाहता है। लेकिन लॉकडाउन की वजह से फिलहाल ऐसा मुमकिन नहीं है। इसलिए ट्रस्ट लॉकडाउन के खत्म होने का इंतजार कर रहा है। ताकि  राजस्थान, गुजरात और मिर्जापुर से मजदूरों को बुलाया जा सके।

Show More

Related Articles

Back to top button
Close