समाचार

नम आंखों के साथ कर्नल आशुतोष और मेजर अनुज सूद को दी गई अंतिम विदाई- देखें वीडियो

जम्मू-कश्मीर के हंदवाड़ा में आतंकियों के साथ हुई मुठभेड़ में शहीद हुए कर्नल आशुतोष शर्मा और मेजर अनुज सूद का आज सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया गया है। कर्नल आशुतोष शर्मा का अंतिम संस्कार जयपुर के पुरानी चुंगी श्मशान घाट में किया गया और इस दौरान इनकी पत्नी और परिवार के परिजन मौजूद थे। जबकि मेजर अनुज सूद का अंतिम संस्कार पंचकुला में किया गया है।

कर्नल आशुतो

पत्नी ने दी मुखाग्नि

कर्नल आशुतोष को सबसे पहले सैन्य अधिकारी ने श्रद्धांजलि दी और उसके बाद इनका अंतिम संस्कार किया गया। कर्नल आशुतोष की पत्नी पल्लवी और बेटी तमन्ना ने सभी रस्म क्रियाओं में भाग लिया और नम आंखों से इन्हें विदा किया। वहीं कर्नल आशुतोष को मुखाग्नि उनके भाई और पत्नी पल्लवी ने एक साथ मिलकर दी।

श्रद्धांजलि देने पहुंचे गहलोत और राठौर

कर्नल आशुतोष को राज्य के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और भाजपा सांसद राज्यवर्धन सिंह द्वारा भी श्रद्धांजलि दी गई। वहीं इस अवसर पर सेना के अधिकारी भी मौजूद थे और इन अधिकारियों ने कर्नल की वर्दी और सामान उनकी पत्नी पल्लवी को सौंपा। वहीं मीडिया से बात करते हुए कर्नल के भाई पीयूष ने कहा कि आशुतोष का पहला प्यार वर्दी था।

शहीद मेजर अनुज सूद

पत्नी ने कहा शहादत है गर्व पर

शहीद मेजर अनुज सूद का भी अंतिम संस्कार आज किया गया है और इनके अंतिम संस्कार के समय इनकी पत्नी, पिता और माता मौजूद थे। शहीद मेजर अनुज सूद का अंतिम संस्कार इनके पिता ने किया और इस मौके पर परिवार के सदस्यों के अलावा रिश्तेदारों भी थे। श्मशान घाट में नम आंखों से शहीद मेजर अनुज सूद के पिता सीके सूद, मां सुमन और पत्नी आकृति ने इन्हें विदाई दी।

मेजर अनुज सूद की पत्नी आकृति ने कहा कि उन्हें अपने पति की शहादत पर गर्व है और वे हमेशा मेरे साथ रहेंगे। जबकि पिता सीके सूद ने कहा कि अनुज ने मेरा सिर गर्व से ऊंचा कर दिया है, बेटा तुझे सलाम।

शहीद मेजर का पार्थिव शरीर मंगलवार सुबह अमरावती एनक्लेव स्थित उनके निवास पर पहुंचा था। जिसके बाद मेजर को श्रद्धासुमन अर्पित करके श्रद्धांजलि दी गई। यहां से इनका शरीर अंतिम संस्कार के लिए ले जाया गया। शहीद मेजर अनुज सूद के पिता ब्रिगेडियर के पद से सेवानिवृत्त हुए हैं और  मेजर अनुज सूद की छोटी बहन भी आर्मी में ही जो कि कैप्टन के पद पर अपनी सेवाएं दे रही हैं।

ढाई साल पहले हुई थी शादी

मेजर अनुज सूद हिमाचल प्रदेश से तालुक रखते हैं और ये कांगड़ा जिले के निवासी है। हालांकि लंबे समय पहले ही इनका परिवार पंचकुला आकर रहने लग गया था। वहीं मेजर अनुज सूद का विवाह साल 2017 में हुआ था और इनकी पत्नी आकृति धर्मशाला से हैं। आकृति पुणे में जॉब करती है। मेजर अनुज सूद के पिता के अनुसार उन्हें अपने बेटे के शहीद होने पर गर्व है। दुख तो बस अपनी बहु के लिए है।

गौरतलब है कि जम्मू-कश्मीर के हंदवाड़ा में आतंकियों के साथ हुई मुठभेड़ में कर्नल आशुतोष शर्मा, मेजर अनुज सूद सहित पांच जवान शहीद हो गए थे। जिसके बाद आज इनका अंतिम संस्कार किया गया है।

Back to top button
?>