राजनीति

3 मई के बाद भी यह 5 राज्य बढ़ाना चाहते हैं लॉकडाउन, सोमवार को नरेंद्र मोदी ले सकते हैं फैसला

3 मई को लॉकडाउन की अवधि खत्म होने वाली है। लेकिन अभी भी कोरोना वायरस के मामलों में कमी नहीं आई है। लॉकडाउन के बावजूद भी कोराना वायरस के मामले बढ़ते जा रहे हैं और देश में कोरोना वायरस संक्रमित लोगों की संख्या 26 हजार पहुंच गई है। कोरोना वायरस के बढ़ते इन्हीं मामलों को देखते हुए कई ऐसे राज्य हैं। जो कि लॉकडाउन की अवधि को और बढ़ाना चाहते हैं। दिल्ली सरकार की और से तो 16 मई तक के लिए लॉकडाउन बढ़ाने का एक प्रस्ताव भी तैयार कर लिया गया है। वहीं दिल्ली के अलावा महाराष्ट्र, मध्यप्रदेश, पश्चिम बंगाल, पंजाब और ओडिशा राज्य भी लॉकडाउन को बढ़ाने के पक्ष में है। इन राज्य सरकारों की और से भी यहीं संकेत दिए गए है कि लॉकडाउन की अविध इनके राज्य में बढ़ाई जा सकती है। हालांकि इसी बीच तेलंगाना अकेला ऐसा राज्य है जिसने लॉकडाउन की अवधि को सात मई तक के लिए बढ़ा दिया है।

दरअसल इन सभी राज्यों से हाल ही के दिनों में कोरोना वायरस के कई सारे मामले सामने आए हैं। ऐसे में लॉकडाउन को ना बढ़ाने से स्थिति और बिगड़ सकती है। जिसके मद्देनजर ये राज्य सरकारें लॉकडाउन बढ़ाने पर विचार कर रही है।

सोमवार को मोदी के साथ है बैठक

लॉकडाउन खत्म होने से पहले सोमवार को सभी राज्यों के मुख्यमंत्रियों की बैठक पीएम मोदी के साथ होने वाली है। ऐसे में कहा जा रहा है कि इस वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए इन राज्यों के मुख्यमंत्री लॉकडाउन को बढ़ाने का प्रस्ताव पीएम मोदी के सामने रखने वाले हैं।

नहीं दी रियायत

कई सारे राज्यों ने अभी तक अपने हॉटस्पॉट क्षेत्रों में किसी भी तरह की रियायत नहीं दी है और लॉकडाउन बढ़ाने के पक्ष में बयान दिया है। महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे के अनुसार सोमवार को प्रधानमंत्री के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंस  होने वाली है और इस दौरान लॉकडाउन को आगे बढ़ाने पर चर्चा की जाएगी। जरुरत पड़ेगी तो लॉकडाउन को तीन मई के बाद 15 और दिनों के लिए बढ़ाया जाएगा।

गौरतलब है कि इस समय महाराष्ट्र हमारे देश में कोरोना वायरस की राजधानी बना हुआ है और इस राज्य से कोरोना वायरस के सबसे अधिक मामले सामने आए हैं। महाराष्ट्र के मुंबई और पुणे शहर कोरोना वायरस से सबसे बुरी तरह से प्रभावित हैं और इन दोनों शहरों में कंटेनमेंट जोन की संख्या रोज बढ़ती जा रही है। वहीं दूसरी तरफ देश की राजधानी दिल्ली के हालात भी काबू नहीं हो पा रहे हैं और कल भी दिल्ली में 100 से अधिक कोरोना वायरस के नए मामले सामने आए थे।

आपको बात दें की भारत में कोरोना वायरस के मरीजों की संख्या 26 हजार के पार चली गई है। जबकि कल 24 घंटे के अंदर देश में 1,990 नए कोरोना वायरस के मामले सामने आए थे। यानी साफ है कि लॉकडाउन होने के बाद भी कोरोना वायरस पर काबू अभी तक पाया नहीं जा सका है। इसलिए आने वाले समय में लॉकडाउन को और बढ़ाया जा सकता है।

Back to top button