राजनीति

लॉकडाउन के बीच इस महिला ने दिया पुलिस वैन में बच्ची को जन्म, ऐसे किया गया मदद

कोरोना वायरस महामारी के संकट की वजह से पूरी दुनिया लगभग थम सी गई है। दुनिया भर से ऐसी तस्वीरें सामने आ रही हैं, जहां भयंकर भीड़ हुआ करती थी, वहां अब पूरा सूनापन है। सूनेपन की वजह से कई जगहें भूतहा लगने लगी हैं। स्कूल, कॉलेज से लेकर सभी दफ्तरों सहित यात्राओं पर पूर्ण प्रतिबंध लगा दिया गया है। लोगों की आम जिदगियां प्रभावित हैं। हालांकि देश में एहतियातन लॉकडाउन किया गया है। दूसरी तरफ महामारी की वजह से हुए लॉकडाउन ने आर्थिक और सामाजिक स्तर पर विध्वंसकारी नुकसान किया है। इस वायरस से दुनिया का हर शख्स किसी न किसी रूप से प्रभावित है।

कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के कारण लॉकडाउन घोषित है। इसी बीच साउथ दिल्ली के किदवई नगर की एक घटना सामने आई है। दरअसल बुधवार को एक महिला ने पुलिस वैन में एक बच्ची को जन्म दिया है। जब महिला को पुलिस वैन से अस्पताल ले जाया जा रहा था, उसी दौरान उसने एक बच्ची को जन्म दिया। इस बात की जानकारी खुद पुलिस ने दी है।

मामला किदवई नगर के मजदूर बस्ती में रहने वाली एक गर्भवती महिला का था। बुधवार को घरवालों ने पुलिस को फोन किया। और उसमें जानकारी दी कि, महिला को तुरंत एक ऐंबुलेंस की आवश्यकता है। उसके फौरन बाद पुलिस एक्शन में आई। और उस महिला के पास पहुँची।

पुलिस की तरफ से बताया गया कि एक महिला कांस्टेबल सहित 4 पुलिसकर्मी, किदवई नगर में गर्भवती महिला के घर पहुंचे। और वहां से ईआरवी (आपात प्रतिक्रिया वाहन) में लेकर सीधे सफदरजंग अस्पताल की ओर जा रहे थे। तभी 28 वर्षीय गर्भवती महिला ने रास्ते में ही वैन में बच्ची को जन्म दिया। पुलिस अधिकारी ने आगे बताया कि, उसके बाद महिला और बच्ची को सफदरजंग अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

इस तरह से आम जिंदगी को कोरोना वायरस ने बुरी तरह से प्रभावित किया है। ऐसी समस्याएं इस दौरान अक्सर देखने, सुनने को मिल रही हैं। कोरोना वायरस ने मजदूरों, कामगारों के लिए रोजी रोटी का संकट भी पैदा कर दिया है। इसी का असर हम पिछले दिनों देख चुके हैं। जब दिल्ली व  अन्य बड़े शहरों से लाखों की संख्या में मजदूर पलायन कर रहे थे। हालांकि इससे कोरोना के संक्रमण का खतरा भी बढ़ सकता था। लेकिन उन मजदूरों के पास अपने घर वापस जाने के अलावा कोई दूसरा रास्ता नहीं था। उनके सामने अपना जीवन  बचाने की बड़ी चुनौती थी। ऐसी कई विकट समस्याएं आज हमारे सामने खड़ी हैं।  जिससे फिल्हाल पार पाना आसान नहीं दिखता। हालांकि केंद्र और राज्य सरकारें मिलकर लोगों की बुनियादी चीजों की पूर्ति आसानी से हो, इसके लिए भरसक प्रयास कर रही हैं।

कयास यही लगाए जा रहे हैं, अभी लॉकडाउन 21 दिनों से और आगे बढ़ सकता है। और सरकार की तैयारियां भी यही बताती हैं कि लॉकडाउन अभी खत्म नहीं होगा। एक तर्क ये भी लगाया जा रहा है कि, सरकार ने तीन महीने के राहत पैकेज का ऐलान किया है, ये सरकार की आगे की तैयारियों को बताती हैं। हालांकि अभी तक केंद्र सरकार की ओर से लॉकडाउन बढ़ने की आधिकारिक पुष्टि नहीं हुई है।

Show More

Related Articles

Back to top button
Close