बीजेपी की एकतरफा जीत से मची खलबली, मायावती ने लगाया इवीएम मशीन से छेड़छाड़ का आरोप!

उत्तर प्रदेश का भविष्य अगले 5 सालों के लिए लिखा जा चुका है। इस चुनाव में बीजेपी ने जिस तरह से वापसी की और जीत हासिल की, किसी ने भी इसकी उम्मीद नहीं की थी। पहले चरण के चुनाव में बीजेपी की हालत बहुत खराब थी, उसे देखकर ऐसा लग रहा था कि बीजेपी के हाथ से उत्तर प्रदेश की सत्ता इस बार भी निकल जाएगी। जबकि ऐसा नहीं हुआ, बीजेपी ने दमदार वापसी करते हुए, अपने सभी विरोधियों के मुँह बंद करा दिए।

यूपी का भविष्य हाथी या साइकिल के साथ नहीं बल्कि है कमल के साथ:

आपको बता दें अभी तक के नतीजे के हिसाब से इस समय बीजेपी ने 301 सीटों पर अपना कब्ज़ा ज़मा लिया है, और 21 सीटों पर आगे भी चल रही है। ऐसा लग रहा है कि वह 21 सीट भी बीजेपी के हाथ ही लगने वाली है। बीजेपी के आला कमान ने इस बार उम्मीद की थी कि बीजेपी की सत्ता बनेगी, लेकिन इस तरह से बनेगी, इसकी उम्मीद उन्हें भी नहीं थी। इस बार उत्तर प्रेअदेश की जनता ने दिखा दिया है कि उत्तर प्रदेश का भविष्य साइकिल या हाथी के साथ नहीं बल्कि कमल के साथ है।

 

मुँह छिपाते फिर रहे हैं पार्टी मुखिया:

आपको बता दें बीजेपी की इस भारी जीत से सभी विरोधी खेमे में खलबली मची हुई है। इस समय सभी पार्टियों के मुखिया अपनी-अपनी हार का जिम्मेदार किसी और को ठहरा रहे हैं और अपना मुँह छिपाते फिर रहे हैं। वही मायावती ने अपनी हार का बदला बीजेपी के ऊपर इवीएम मशीन में छेड़छाड़ का आरोप लगाकर लिया है। मायावती ने कहा है कि इस बार के चुनाव में इवीएम मशीन के साथ भारी गड़बड़ी की गयी है।

बीजेपी ने लगा दिया सबके मुँह पर ताला:

मायावती ने यह कहा कि जिस इलाके में मुस्लिम वोट ज्यादा हैं, वहाँ भी बीजेपी ही जीत रही है, ऐसा कैसे संभव हो सकता है। हालांकि इस बात में कुछ सच्चाई है, या सिर्फ अपनी हार को छुपाने का एक तरीका है, यह कहना काफी मुश्किल है। लेकिन जो भी इस बार बीजेपी ने सबके मुँह पर ताला लगा दिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.