अमरनाथ यात्रा जाने वाले यात्रियों को गृह मंत्रालय ने दिए कुछ खास निर्देश,जाने क्या हैं निर्देश!

अमरनाथ यात्रा भारत की सबसे कठिन यात्रा मानी जाती है। इसलिए इस यात्रा पर जाने से पहले लोगों का हेल्थ चेकअप होता है। जो लोग वहां जाने में सक्षम होते हैं, उन्हें ही वहां जाने की इजाजत दी जाती है। आप तो जानते ही हैं कि अमरनाथ की यात्रा में हर साल लाखों लोग जाते हैं। वहां तक पहुंचने के लिए यात्रियों को कठिन रास्तों और चढ़ाइयों से होकर गुजरना पड़ता है। अमरनाथ धाम काफी ऊंचाई पर है, इसलिए वहां ऑक्सीजन की कमी भी होती है। ऐसे में जिन लोगों को सांस की समस्या है, उन्हें काफी तकलीफ होती है।

 

यात्रा पर जाने वाले अपने साथ रखें ऑक्सीजन सिलिंडर:

अभी हाल में गृह मंत्रालय ने अमरनाथ की यात्रा करने वाले यात्रियों को स्वास्थ्य सम्बन्धी परामर्श देते हुए उन्हें अपने साथ ऑक्सीजन का सिलिंडर रखने के लिए कहा है। गृह मंत्रालय ने कहा कि चूंकि अमरनाथ की गुफा 14,000 फिट की ऊंचाई पर स्थित है, ऐसे में लोगों को सांस लेने में परेशानी हो सकती है। इस बात को ध्यान में रखते हुए उन्हें अपने साथ ऑक्सीजन का छोटा सिलिंडर रखना चाहिए।

हर दो किलोमीटर पर मौजूद हैं स्वास्थ्य सुविधाएं:

आपको पहले ही बता चुके हैं कि अमरनाथ की यात्रा पर जाने से पहले प्रत्येक यात्री को अपने स्वास्थ्य की जांच करवानी पड़ती है। ऐसे में मंत्रालय ने यह भी कहा है कि जरूरी स्वास्थ्य प्रमाण पत्र लेने के बाद भी अगर आपके स्वास्थ्य में कोई परेशानी आ जाए तो यात्रा शुरू करने से पहले डॉक्टर की सलाह अवश्य लें। ऊंचाई सम्बन्धी दिक्कत होने पर तुरंत डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए। यात्रा के दौरान हर दो किलोमीटर पर स्वास्थ्य चेकिंग और परामर्श की सुविधा उपलब्ध कराई गयी है।

 

यात्रा के दौरान ना करें धूम्रपान:

ऊंचाई की वजह से अगर कोई परेशानी हो रही है तो इसे अनदेखा नहीं करना चाहिए। इसकी वजह से आपको लकवा मारने, आंखों की रौशनी जाने का डर या अचेत होने की समस्या झेलनी पड़ सकती है। यात्रा के दौरान भूलकर भी शराब, धुम्रपान और कैफीन का सेवन नहीं करना चाहिए। यह आपके स्वास्थ्य के हिसाब से बहुत हानिकारक होता है। आपको बता दें इस साल अमरनाथ यात्रा 29 जुलाई से लेकर 7 अगस्त तक चलेगी।

यात्रा पर जाने के लिए करें ये काम:

*- यात्रा पर जाने से पहले हर रोज कम से कम 5-6 किलोमीटर तक पैदल टहलें।

 

*- हर रोज 5-6 लीटर पानी जरूर पिएं।

 

*- अमरनाथ तीर्थस्थल बोर्ड की वेबसाइट पर दिए गए निर्देश के अनुसार ही खाद्य पदार्थ का चुनाव करें।

 

*- यात्रा पर जाने से पहले हर रोज प्राणायाम करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published.