ब्रेकिंग न्यूज़

राहुल गांधी ने फिर किया देश का अपमान ,कहा ‘पुलवामा हमले से सबसे ज़्यादा फायदा किसे मिला?

आज जब पूरा भारत पुलवामा हमले में शहीदों को श्रद्धांजलि दे रहा है, तब कांग्रेस प्रमुख राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए इस मुद्दे पर राजनीति करने की शर्मनाक कोशिश की थी।सत्ता के लालच में कोई कितना गिर सकता है, कितना बेशर्म हो सकता है इस का राहुल गाँधी से बेहतर उदाहरण शायद ही कहीं देखने को मिले हमले की जिम्मेदारी लेने का दावा करने वाले पाकिस्तान स्थितजैश-ए-मोहम्मद के बावजूद, राहुल गांधी ने सवाल किया कि ‘पुलवामा हमले में सबसे ज्यादा फायदा किसका हुआ?’। इसके अलावा, उन्होंने पूछा कि हमले में जांच का परिणाम क्या आया और सुरक्षा चूक के लिए किसे जिम्मेदार ठहराया गया ?

कांग्रेस को बालाकोट एयर स्ट्राइक पर शंका है

कांग्रेस पार्टी समेत सभी टुकड़े टुकड़े गैंग ने अक्सर ‘बलकोट स्ट्राइक’ के लिए मोदी सरकार से सबूत मांगा था, जो भारतीय सेना द्वारा जवाबी कार्रवाई के रूप में पुलवामा हमले का बदला था । कांग्रेस सांसद शशि थरूर ने भी पाकिस्तान के इस दावे के हवाले से कहा था कि सेना ने पाकिस्तान में कुछ पेड़ों पर प्रहार किया और 26 फरवरी को किये गए हवाई हमले में कोई भी आतंकवादी नहीं मारा गया। जब उनसे पूछा गया कि वो इस पर सवाल क्यों कर रहे हैं, जब पाकिस्तान के पीएम इमरान ने बालाकोट हमले को स्वीकार करली । तो उन्होंने इसके बारे में किसी भी जानकारी होने से इनकार किया।

पुलवामा में मारे गए 40 CRPF जवानों के स्मारक

एक शीर्ष अधिकारी ने कहा कि पिछले साल फरवरी में पुलवामा आतंकी हमले में मारे गए 40 सीआरपीएफ कर्मियों के स्मारक का शुक्रवार को लेथपोरा शिविर में उद्घाटन किया जाएगा। उनकी तस्वीरों के साथ सभी 40 जवानों के नाम स्मारक का हिस्सा होंगे। स्मारक केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) – ‘सेवा और निष्ठा’ (सेवा और वफादारी) के आदर्श वाक्य को भी प्रदर्शित करेगा।

पुलवामा अटैक

14 फरवरी, 2019 को, जम्मू श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग पर सुरक्षा कर्मियों को ले जा रहे वाहनों के काफिले पर भारत के पुलवामा जिले के लेथपोरा (अवंतीपोरा के पास) में एक वाहन- के साथ आत्मघाती हमलावर ने हमला किया। हमले में सीआरपीएफ के 40 जवानों की मौत हो गई। हमले की जिम्मेदारी पाकिस्तान स्थित आतंकवादी समूह जैश-ए-मोहम्मद ने ली थी। तब से सेना द्वारा मॉड्यूल के मुख्य षड्यंत्रकारियों को समाप्त कर दिया गया है।

Show More

Related Articles

Back to top button
Close