विशेष

भारत के टॉप १० सबसे खुबसुरत महिला IAS और IPS ऑफिसर से मिलें.

 

IAS बनना बहुत लोगो का सपना है उम्मीद है की वो अपना सपना पूरा करने के लिए मेहनत भी कर रहे होगे .. पिछले दिनों आईएस टोपर टीना का विरोध भी हुआ और उनका सपोर्ट भी बहुत हुआ .. वो पढाई में भी अव्वल है ओर अपनी सुन्दरता में भी जब बात आ ही गई है की सुंदर आईएस अधिकारीयों की तो आज हम आपको 10 ऐसे ही खुबसुरत IAS के चहरे दिखायेगे जिन्हें देखकर आप भी कहोगे की वहा क्या बात है तो देखिये

1- IAS स्मिता सभरवाल

1

मात्र 23 साल में IAS परीक्षा पास करने वाली स्मिता ने कॉमर्स से ग्रेजुएशन किया है।स्मिता को ऑल इंडिया रैंकिंग में चौथा स्थान मिला था।इन्हें पहली नियुक्ति चित्तूर जिले में बतौर सब-कलेक्टर मिली थी। आंध्र प्रदेश के कई जिलों में एक दशक तक काम करते रहने के बाद उन्हें करीमनगर जिले का डीएम बनाया गया।

2-मेरिन जोसेफ

2-1

2012 में पहले ही प्रयास में यूपीएससी द्वारा आयोजित सिविल सेवा परीक्षा पास करने वाली मेरिन जोसेफ ने दिल्ली के जाने माने सेंट स्टीफंस कॉलेज से बैचलर डिग्री ली। सिविल सेवा परीक्षा में पास होने के बाद इन्होने पुलिस सर्विस ज्वाइन की। जोसेफ अपने बैच की सबसे युवा आईपीएस हैं। साल 2015 में उन्होंने ऑस्ट्रेलिया में आयोजित यूथ समिट में भारत के प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व किया था।

3-टीना डाबी

3-1

इस साल 2016 का UPSC एग्जाम दिल्ली की 22 साल की लड़की टीना डाबी ने पहले ही अटैम्प्ट में टॉप किया है। टीना वैसे तो भोपाल में पैदा हुई पर जब वो 7वीं में थीं तब पूरा परिवार दिल्ली शिफ्ट हो गया। ‘कॉन्वेंट ऑफ जीजस एंड मैरी’ से टीना ने अपनी स्कूलिंग पूरी की। इसके बाद 2011 में दिल्ली के लेडी श्रीराम कॉलेज ऑफ कॉमर्स में एडमिशन लिया और पॉलिटिकल साइंस में B.A. किया।

4-बी चंद्रकला

4-2

यूपी के बुलंदशहर की डीएम चन्द्रकला का जन्म 27 सितंबर, 1979 को आंध्र प्रदेश में हुआ था। 2008 बैच की IAS ऑफिसर चन्द्रकला को सिविल एग्जाम में 409वीं रैंक मिली थी। वे ट्राइबल फैमिली को बिलॉन्ग करती हैं। उन्होंने हैदराबाद के कोटि वुमन्स कॉलेज से बीए में ग्रैजुएशन किया है।

5-संजुक्ता पाराशर

5-2

असम की पहली महिला IPS अफसर संजुक्ता 2006 बैच की IPS ऑफिसर हैं। इन्होंने अपनी ग्रैजुएशन दिल्ली के इंद्रप्रस्थ कॉलेज से पॉलिटिकल साइंस में पूरी की है। संजुक्ता एक बच्चे की माँ भी है। संजुक्ता की 2008 में पहली पोस्टिंग माकुम में असिस्टेंट कमांडेंट के तौर पर हुई थी, कुछ समय बाद उन्हें उदालगिरी में हुई बोडो और बांग्लादेशियों के बीच की जातीय हिंसा को काबू करने के लिए भेज दिया गया।

6-रिजू बाफना

6-2

रिजु बाफना 2013 में 77वीं रैंक हासिल करके आईएएस बनी थीं। उनके पति भी आईएएस अफसर हैं। बीते साल ह्यूमन राइट्स कमीशन के एक अफसर के खिलाफ यौन उत्पीड़न की शिकायत दर्ज कराने के बाद वे सुर्खियों में आई थीं।

7-स्तुति चरण

7-2
जोधपुर की रहने वाली स्तुति को 2012 में सिविल सर्विस एग्जाम में थर्ड रैंकमिली थी और उनकी इस कामयाबी में परिवार का बड़ा हाथ रहा है।स्तुति ने जोधपुर यूनिवर्सिटी से बीएससी और दिल्ली के आईआईपीएम से मार्केटिंग मैनेजमेंट की पढ़ाई की है। सिविल सर्विस एग्जाम से पहले वो बैंक पीओ एग्जाम भी पास कर यूको बैंक में सर्विस कर रही थी।

8-रोशन जैकब

8
केरल की रहने वाली रोशन का जन्म 25 दिसंबर, 1978 को हुआ था। उन्होंने साल 2004 में UPSC एग्जाम को क्लियर किया था। वो वर्तमान में उत्तर प्रदेश की गोंडा जिले की डीएम हैं।

9-मीरा बोरवांकर

9

महाराष्ट्र कैडर की सीनियर ऑफिसर मीरा चड्ढा बोरवांकर 1981 बैच की आईपीएस अधिकारी हैं। वो         अगले साल रिटायर्ड होंगी। वर्तमान में मीरा पुलिस शोध एवं विकास ब्यूरो की महानिदेशक हैं। इससे पहले महाराष्ट्र की पहली महिला पुलिस आयुक्त बनकर मीरा बोरवांकर ने इतिहास रचा था।

10-कंचन चौधरी भट्टाचार्य

10-2
कंचन चौधरी भट्टाचार्य देश की पहली ऐसी महिला आईपीएस अधिकारी हैं जिन्हें किसी राज्य (उत्तरांचल) का पुलिस महानिदेशक बनाया गया है। 1973 बैच की आईपीएस अधिकारी कंचन चौधरी ने इस लिहाज से इतिहास बनाया है। उनके हसबैंड मुंबई की एक मल्टीनेशनल कंपनी में बिजनेस डेवलपमेंट का काम करते हैं।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

Back to top button