अध्यात्म

इन छोटे-छोटे वास्तु टिप्स को मानकर आप अपने घर में ला सकते हैं, शांति, खुशहाली और समृद्धि!

वास्तुशास्त्र एक बहुत ही कमाल की विद्या है। इसका उपयोग करके आज कई लोग खुशहाली से अपना जीवन बिता रहा है। जबकि कुछ लोग इसे बकवास मानते हैं और दुःख भरा जीवन जीने के लिए मजबूर हैं। वास्तुशास्त्र के नियमों को अनदेखा करने पर व्यक्ति को आर्थिक, शारीरिक और मानसिक हानि उठानी पड़ती है। अगर आप भी चाहते हैं कि आपके घर में कोई वास्तु दोष ना हो तो इन छोटे-छोटे टिप्स को जरुर ध्यान में रखें।

धन और आयु के लिए उत्तर की तरफ मुँह करके खाएँ खाना:

पूरब की तरफ मुख करके भोजन ग्रहण करने से व्यक्ति की आयु में वृद्धि होती है। उत्तर की तरफ मुँह करके खाने वाले लोगों को आयु के साथ-साथ धन की भी प्राप्ति होती है। दक्षिण दिशा की तरफ मुँह खरके खाने वाले व्यक्ति के ऊपर प्रेत का साया रहता है और जो लोग पक्षिम की तरफ मुँह करके खाना खाते हैं, उन्हें रोगों से मुक्ति नहीं मिलती है। इसके अलावा कुछ औत नियम हैं, जिन्हें आपको ध्यान में रखने की जरुरत है।

वास्तु के ये टिप्स रखें ध्यान में:

*- आप जिस कमरे में सोते हैं, उस कमरे के प्रवेश द्वार के सामने वाली दीवार के बाएँ कोने पर धातु की कोई भी वस्तु लटकाकर रखें। वास्तु के हिसाब से कमरे का यह स्थान भाग्य और धन का क्षेत्र होता है।

*- जिस घर में जल निकासी पक्षिम या दक्षिण दिशा में होती है, उस घर में आर्थिक परेशानियों के साथ-साथ कई और परेशानियों का सामना करना पड़ता है। इसलिए घर में जल निकासी हमेशा पूर्व दिशा या उत्तर दिशा से होनी चाहिए।

 

*- आप अपने घर की पूर्व-उत्तर दिशा और ईशान कोण को सदैव साफ़-सुथरा रखें।

*- अगर आपके घर में स्फटिक श्री यन्त्र नहीं है तो उसे तुरंत लायें और घर में लगा दें। यह वास्तु के हिसाब से शुभ माना जाता है।

*- घर में भूलकर भी काँटेदार पौधे या दूध वाले पौधे नहीं लगाने चाहिए, यह वास्तु के हिसाब से अशुभ माना जाता है।

 

*- अगर आप धन की कमी से जूझ रहे हैं तो अनार का पेड़ अवश्य लगायें, कुछ ही समय में आपकी धन की समस्या दूर हो जाएगी।

*- वास्तु के हिसाब से अगर आप घर में पोछा लगाते हैं तो समुद्री नमक से लगायें।

*- घर में रसोई बनाते समय इस बात का खासतौर पर ध्यान रखें कि घर के उत्तर दिशा में रसोई घर ना हो।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

Back to top button