बिज्ञान और तकनीक

गैर-तकनीकी ऑनलाइन ट्रेनिंग चुनने वाले STEM के छात्रों में 27% की वृद्धि। डिजिटल मार्केटिंग सूची में सबसे ऊपर।

STEM (साइंस, टेक्नोलॉजी, इंजीनियरिंग, और मैथ्स) में पढ़ाई करने वाले छात्रों को हमेशा से ही स्मार्ट निर्णय लेने और लाभदायक करियर मार्ग चुनने वाला माना जाता है। परन्तु, पिछले कुछ वर्षों में STEM से निकल कर बड़ी संख्या में छात्र गैर-तकनीकी करियर अवसरों की ओर बढ़ रहे हैं। तकनीकी क्षेत्र में रुचि, नौकरी के अवसर, और प्रैक्टिकल स्किल्स को पोलिश करने के लिए उपलब्ध विकल्पों की कमी, ऐसे कुछ कारण हैं जिनकी वजह से STEM छात्र मैनेजमेंट और क्रिएटिव स्किल्स सीखने तथा टेक्निकल जॉब खोजने की ओर अग्रसर हो रहे हैं। इंटर्नशाला की एक नई रिपोर्ट के अनुसार, 2018 से 2019 के बीच गैर-तकनीकी ऑनलाइन ट्रेनिंग में एनरोल करने वाले STEM छात्रों की संख्या में 27% की वृद्धि हुई है।

कौन सी ट्रेनिंग के प्रति STEM के छात्र हैं सबसे अधिक आकर्षित?

डिजिटल मार्केटिंग STEM छात्रों के बीच सबसे लोकप्रिय ट्रेनिंग रही है जिसमें कुल छात्रों में से 46% नामांकित हैं। क्योंकि इंजीनियरिंग छात्रों की संख्या उपस्थित नौकरी के अवसरों से बहुत अधिक है, इसलिए उनके लिए एक उपयुक्त नौकरी खोजना मुश्किल हो जाता है। परिणामस्वरूप, छात्र डिजिटल मार्केटिंग जैसी ट्रेनिंग्स की ओर आकर्षित हो रहे हैं क्योंकि इस क्षेत्र में उनके लिए अनेक अवसर हैं।

डिजिटल मार्केटर्स से एनालिटिकल, स्ट्रेटेजी मेकिंग, प्रॉब्लम सॉल्विंग, और टेक्नोलॉजिकल कम्पीटेंसी जैसी स्किल्स की उम्मीद की जाती है। अपनी पढाई के दौरान इंजीनियरिंग के छात्र यह सभी स्किल्स सीखते हैं और अपने मजबूत तकनीकी और गणितीय स्किल्स के साथ, वे डिजिटल मार्केटर्स के रूप में अविश्वसनीय कार्य करते हैं। पहले, डिजिटल मार्केटर्स से केवल क्रिएटिव ऑनलाइन कैंपेन बनाने और उन्हें एक्सीक्यूट करने की उम्मीद की जाती थी, परन्तु अब क्रिएटिविटी के अलावा उनके लिए डेटा का ज्ञान होना अनिवार्य है। एक ऑनलाइन डिजिटल मार्केटिंग ट्रेनिंग को पूरा करने के बाद STEM के छात्र कंटेंट मैनेजर व स्ट्रैटेजिस्ट, वर्चुअल रियलिटी डेवेलपर्स व एडिटर्स, SEO/SEM स्पेशलिस्ट, ईमेल मार्केटिंग स्पेशलिस्ट, एनालिस्ट व AI स्पेशलिस्ट, और डिजिटल मार्केटिंग मैनेजर्स व डायरेक्टर्स जैसी आकर्षक भूमिकाओं में काम कर सकते हैं।

अन्य लोकप्रिय गैर-तकनीकी ट्रेनिंग्स में 17% नामांकन के साथ बिज़नेस कम्युनिकेशन स्किल्स ट्रेनिंग, 14% के साथ एडवांस्ड एक्सेल ट्रेनिंग, 9% के साथ बिगिनर्स ट्रेडिंग सर्टिफिकेशन ट्रेनिंग,और 7% नामांकन के साथ क्रिएटिव राइटिंग ट्रेनिंग शामिल हैं।

इंजीनियरिंग स्ट्रीम के छात्र करते हैं ऑनलाइन ट्रेनिंग्स में सबसे अधिक नामांकन।

कुल नामांकनों में से 74% इंजीनियरिंग पृष्ठभूमि के छात्र गैर-तकनीकी स्किल्स की ओर आकर्षित हैं। इंजीनियरिंग छात्रों के अलावा बैचलर ऑफ साइंस (B.Sc/ B.Sc Hons.) के बीच भी गैर-तकनीकी ऑनलाइन ट्रेनिंग्स लोकप्रिय हैं।
एक दिलचस्प पैटर्न जो 3 साल के पाठ्यक्रम जैसे B.Sc और 4 वर्षीय पाठ्यक्रम जैसे इंजीनियरिंग के छात्रों में उभर कर आया है, वह यह है कि अधिकांश नामांकन प्री-फाइनल व फाइनल ईयर के छात्रों द्वारा किये जाते हैं। इससे यह स्पष्ट होता है कि छात्र कॉलेज के पहले वर्ष में अपने पाठ्यक्रम की और ध्यान केंद्रित करते हैं, और दूसरे वर्ष से प्रैक्टिकल स्किल्स प्राप्त करने के विकल्प तलाशते हैं।

ट्रेनिंग में नामांकन करने के प्रमुख उद्देश्य

STEM के 45% छात्र एक नई स्किल सीखने के लिए गैर-तकनीकी ऑनलाइन ट्रेनिंग में नामांकन करते हैं, भविष्य में नौकरी या इंटर्नशिप करने के लिए 35% छात्र ऑनलाइन ट्रेनिंग लेते हैं, 12% छात्र एक नए कौशल में प्रमाणित होने के लिए ट्रेनिंग लेते हैं, 7% छात्र स्वयं इंडस्ट्रियल प्रोजेक्ट बनाने में दिलचस्पी रखते हैं, तथा केवल 1% छात्र अपने कॉलेज की मांगों को पूरा करने के उद्देश्य से ऑनलाइन ट्रेनिंग लेते हैं। जहाँ एक ओर कॉलेज के दौरान छात्र थेओरिटिकल कॉन्सेप्ट्स की समझ प्राप्त करते हैं, वहीँ दूसरी ओर वे किफायती और सुलभ ऑनलाइन ट्रेनिंग्स की सहायता से अलग-अलग क्षेत्रों का प्रैक्टिकल ज्ञान अर्जित करते हैं। ऑनलाइन ट्रेनिंग्स छात्रों को अपना दैनिक शेड्यूल ख़राब किये बिना अपनी ज़रूरतों के अनुसार नई स्किल्स सीखने की स्वतंत्रता देती हैं।

ऑनलाइन ट्रेनिंग्स दुनिया के हर कोने में, किसी भी स्ट्रीम से संबंधित विभिन्न छात्रों को दिलचस्प अवसर प्रदान कर रही है ताकि वे कहीं भी, कभी भी नई स्किल्स सीख सकें। ऐसी अनोखी, शार्ट-टर्म्ड, और प्रक्टिकली ड्रिवन ऑनलाइन ट्रेनिंग्स की सहायता से छात्रों को अब अपनी रुचि के अतिरिक्त किसी भी क्षेत्र में अध्ययन करने और काम करने की ज़रूरत नहीं है। बिना किसी फुल-टाइम कोर्स में एनरोल किये बिना वे ऑनलाइन ट्रेनिंग्स द्वारा किफायती दामों में नई स्किल्स सीख अपने लिए दिलचस्प नौकरी की भूमिकाएँ चुन सकते हैं।

लेखक के बारे में – सर्वेश अग्रवाल, इंटर्नशाला के संस्थापक और सी.ई.ओ. हैं। इंटर्नशाला, एक इंटर्नशिप व ट्रेनिंग प्लेटफॉर्म हैं (इंटर्नशाला.कॉम)।

Back to top button