ब्रेकिंग न्यूज़

पृथ्वी नहीं रही अकेली, नासा ने पृथ्वी के जैसे ग्रह खोजकर रचा नया इतिहास!

इंसान को कुछ नया जानने की इच्छा हमेशा से बनी हुई है। वह हर दिन नई-नई चीजें सीखना चाहता है, साथ ही नई चीजों की खोज करना चाहता है। हर व्यक्ति की चाहत होती है कि वह कुछ नया करे, जिससे उसकी एक अलग पहचान बने। आप तो जानते ही हैं कि शायद ही ऐसा कोई व्यक्ति होगा जो यह नहीं जानना चाहता होगा कि क्या इस ब्रह्माण्ड में केवल एक ही पृथ्वी है? क्या इसके जैसा कोई और भी ग्रह है या नहीं? अगर है तो क्या उसपर भी जीवन है या उस पर जीवन संभव है?

नासा ने नए सौरमंडल का पता लगाया:

कुछ इस तरह के सवाल हर इंसान बचपन से ही अपने मन में पाले रहता है। आज हम जो बात बताने जा रहे हैं, वह इसी से जुडी हुई है। दरअसल अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी नासा ने एक नए सौरमंडल की खोज करके इतिहास रच दिया है। नासा ने ट्वीट करके सबको जानकारी दी है कि हमारे सौरमंडल के बाहर आवासीय जोन में तारों के आस-पास 7 नए ग्रह मिले हैं, जो पृथ्वी के आकार के हैं। नासा ने इस खोज के साथ ही एक नया रिकॉर्ड बना लिया है।

खोजे गए नए ग्रहों पर जीवन संभव:

आज से पहले किसी अंतरिक्ष एजेंसी ने एक साथ इतने ग्रहों के बारे में पता नहीं लगाया था। अंतरिक्ष एजेंसी नासा ने एक प्रेस रिलीज जारी करते हुए यह बताया कि स्पिट्ज़र टेलिस्कोप से इस बात का पता चला है कि आवासीय जोन में पाए जाने वाले ये ग्रह पृथ्वी के आकार के ही है। नासा ने यह बात भी कही है कि इनमे से तीन ग्रह ऐसे हैं, जिसपर जीवन संभव है, यानी इन तीनों ग्रहों पर रहा जा सकता है।

पृथ्वी से है 40 प्रकाश वर्ष की दूरी पर:

आपको बता दें नासा ने यह भी खुलासा किया है कि जिस तारे के इर्द-गिर्द ये सारे ग्रह चक्कर लगा रहे हैं, उस तारे का नाम ट्रापिस्ट-1 है। यह तारा पृथ्वी से 40 प्रकाश वर्ष की दूरी पर स्थित है। नासा के इस खोज को विश्व के प्रतिष्ठित जर्नल नेचर में प्रकाशित किया गया है। इस जर्नल में इससे पहले भी इस तरह के कई शोध प्रकाशित किये जा चुके हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Close