काली मां का स्वरूप हैं त्रिपुर भैरवी, इनकी पूजा करने से हो जाती है हर इच्छाएं पूरी

माता त्रिपुर भैरवी, मां काली का रूप मानी जाती हैं और हर साल त्रिपुर भैरवी जयंती मार्गशीर्ष मास की पूर्णिमा को मनाई जाती है। ऐसा माना जाता है कि माता त्रिपुर की पूजा करने से हर कार्य सफल हो जाता है और धन प्राप्ति होती है। इतना ही नहीं मां की पूजा करने पुत्र की प्राप्ति भी होती है। इस साल  12 दिसंबर को त्रिपुर भैरवी जयंती आ रही है। अगर आपकी कोई मनोकामना है तो इस दिन मां की पूजा जरूर करें।

कौन हैं त्रिपुर भैरवी

माता त्रिपुर महाविद्या की छठी शक्ति मानी जाती हैं। त्रिपुर माता की चार भुजाएं और तीन नेत्र होते हैं और इनका नाता तीनों लोक से माना जाता है। माता त्रिपुर के और भी कई नाम हैं और इन्हें षोडशी, रूद्र भैरवी, चैतन्य भैरवी, नित्य भैरवी, भद्र भैरवी, कौलेश भैरवी, श्मशान भैरवी, संपत प्रदा भैरवी आदि नामों से भी जाना जाता है।

त्रिपुर भैरवी मां की कथा

कथा के अनुसार मां काली को अपने पास ना पाकर शिव जी को उनकी काफी चिंता होने लगी। शिव जी ने अपनी चिंता देवऋषि नारद को बताई है और देवऋषि नारद से मां काली का पता लगाने को कहा। काली मां को खोजते हुए देवऋषि नारद सुमेरु के उत्तर में जाते हैं और इस जगह उन्हें काली मां मिल जाती हैं। काली मां से मिलकर देवऋषि नारद उनके सामने शिव जी के विवाह प्रस्ताव को रखते हैं। इस प्रस्ताव से मां काली नाराज हो जाती हैं। उसी दौरान उनके शरीर से षोडशी  प्रकट होता है और उसकी छाया से त्रिपुर भैरवी मां प्रकट होती हैं। इसी वजह से त्रिपुर भैरवी मां को षोडशी के नाम से भी जाना जाता है।

पूजा करने से मिलने वाला लाभ

होती है व्यापार में वृद्धि

ऐसा माना जाता है कि जो लोग त्रिपुर भैरवी मां की पूजा करते हैं उनका व्यापार अच्छे से चलता है। त्रिपुर भैरवी मां की पूजा करते समय उनके चरण पर लाल रंग का फूल अर्पित करें और इस फूल को अपनी तिजोरी में रख दें। ऐसा करने से आपको धन लाभ होगा और व्यापार में वृद्धि भी होगी।

सौभाग्य की प्राप्ति

त्रिपुर भैरवी मां की पूजा करने से सौभाग्य की प्राप्ति होती है। इतना ही नहीं जो लोग त्रिपुर भैरवी मां के नाम का जाप करते हैं। वो आरोग्य रहते हैं और किसी भी तरह का रोग उन्हें नहीं लगता है।

जल्द हो जाता है विवाह

जिन लोगों का विवाह नहीं हो रहा है वो लोग रोज त्रिपुर भैरवी मां की पूजा करें। त्रिपुर भैरवी मां की पूजा करने से विवाह जल्द हो जाता है और सच्चा जीवन साथी मिलता है।

होती है पुत्र प्राप्ति

त्रिपुर भैरवी मां की आराधना करने से पुत्र की प्राप्ति होती है। इसलिए जो लोग पुत्र चाहते हैं वो मां की पूजा जरूर किया करें।

पापा हो जाते हैं खत्म

अगर आपके द्वारा कोई पाप हुआ है तो आप त्रिपुर भैरवी मां से जुड़ी कथा पढ़ें और इनकी पूजा करें। ऐसा करने से आपको पाप से मुक्ति मिल जाएगी। इसके अलावा मां की पूजा करने से हर मनोकामना भी पूर्ण हो जाती है।