दिलचस्प

चाणक्य के अनुसार किसी को भूलकर भी न बताएं अपनी ये 7 बातें, हमेशा रखें गुप्त

हर व्यक्ति के जीवन से कोई ना कोई रहस्य जुड़ा होता है और इन रहस्यों को कभी भी अन्य लोगों के साथ साझा नहीं करना चाहिए। आचार्य चाणक्य के अनुसार हम लोगों को नीचे बताई गई बातों को अपने तक ही सीमित रखना चाहिए। क्योंकि अन्य लोगों को हमारे गुप्त राज पता चलने पर हमें नुकसान हो सकता है। इसलिए भूलकर भी इन बातों को किसी को भी ना बताएं और ये चीजे सिर्फ अपने तक ही सीमित रखें।

किसी को भूलकर भी न बताएं अपनी ये 7 बातें

कामयाबी का गुरु मंत्र

अगर आप कोई गुरु मंत्र जानते हैं तो उस मंत्र को किसी को भी ना बताएं। ऐसा माना जाता है कि गुरु मंत्र को अन्य लोगों के साथ साझा करने से इस मंत्र का असर कम हो जाता है और इस मंत्र का जाप करने का कोई भी लाभ नहीं मिलता है। इसलिए आप गुरु मंत्र को हमेशा गुप्त ही रखें और किसी को भी ना बताएं।

गुप्त दान

शास्त्रों में दान करना महा कार्य माना गया है। जो लोग वस्तुओं या धन का दान करते हैं उन लोगों को पुण्य फल की प्राप्ति होती है। आचार्य चाणक्य के अनुसार अगर आप कोई भी चीज दान करें तो उसे गु्प्त ही रखें। दरअसल कई लोग दान करने के बाद इसकी जानकारी सबको दे देते हैं और ऐसा करने से उन्हें दान करने का फल नहीं मिलता है। इसलिए आप जब भी कुछ दान करें तो उसे गुप्त ही रखें।

पति-पत्नी के बीच की बातें

जीवन साथी से आपकी  जो भी बातें हों उन बातों को कभी भी तीसरे व्यक्ति को ना बताएं। क्योंकि ऐसा करने से आपके रिश्ते में दूरी आ सकती है और लोग इन बातों का फायदा उठाकर आपके बीच में लड़ाई करवा सकते हैं।

औषधि

आचार्य चाणक्य के अनुसार अगर आपके पास कोई खास तरह की औषधि है तो उसके बारे में भी लोगों को ना बताएं। इसी तरह से अपनी सही उम्र भी लोगों को नहीं बतानी चाहिए।

अपने राज

अपना राज केवल अपने तक ही सीमित रखें। क्योंकि लोग आपके राज को जानकार उसे आपके खिलाफ इस्तेमाल कर सकते हैं और आपसे अपनी कोई भी बता मनवा सकते हैं। आचार्य चाणक्य के अनुसार अपने जीवन के राज को किसी के साथ साझा ना करने में ही समझदारी होती है।

ना करें लोगों की बुराई

कई लोगों को बुराई करने की आदत होती है। जो कि बहुत गलत माना जाती है। जो लोग अक्सर लोगों की बुराई करते हैं उनको कभी भी सच्चे मित्र नहीं मिलते हैं। इसलिए अगर आप इधर की बात उधर करते हैं वो ऐसा करना बंद कर दें और कोई बात पता चलने पर उसे अपने तक ही सीमित रखें।

अपने धन के बारे में

आपके पास कितना धन है, ये भूलकर भी किसी को ना बताएं। अपने धन के बारे में लोगों को बताने से उनकी नजर धन पर लग जाती है। जबकि कई बार धन छीनने के लिए आपके दोस्त या रिश्तेदार ही आपके दुश्मन बन जाते हैं। इसलिए आपके पास क्या संपत्ति या धन है उसे गुप्त ही रखें।

Back to top button