पूजा-कीर्तन करते समय जरूर रखें इन बातों का ध्यान, तभी होगी पूजा सफल

पूजा करने से मन को शांति मिलती है और मनचाही इच्छा पूरी हो जाती है। कई लोगों द्वारा रोज दो बार पूजा की जाता है और अपने ईश्वर का नाम लिया जाता है। पूजा करने से नकारात्मक ऊर्जा हमसे दूर रहती है और घर के वातावरण पर भी इसका अच्छा असर पड़ता है।

हालांकि पूजा करते समय कुछ चीजों का खासा ध्यान रखना पड़ता है। क्योंकि पूजा के दौरान की गई कोई भी भूल आपकी पूजा को व्यर्थ कर देती है और पूजा का फल नहीं मिलता है। इसलिए पूजा करते समय आप नीचे बताई गई बातों का ध्यान जरूर रखें।

पूजा करते समय रखें इन बातों का ध्यान

  • पूजा करने से पहले मंदिर और मंदिर में रखी गई मूर्तियों को अच्छे से साफ करना चाहिए और मंदिर की सफाई के बाद ही पूजा शुरू करनी चाहिए।
  • पूजा करते समय पहने गए वस्त्र एकदम साफ होने चाहिए।
  • पूजा की शुरूआत सबसे पहले संकल्प के साथ करें। संकल्प लेने के लिए आप हाथ में जल रखें और अपने मन में संकल्प ले लें। इसके बाद ये जल जमीन पर छोड़ दें।
  • मंदिर में रखी गई भगवान की मूर्तियों में अपने इष्ट या कुल देव की मूर्ति भी जरूर रखें।
  • पूजा करते समय हमेशा कुलदेवी या कुलदेवता का नाम जरूर लें। ऐसा माना जाता है कि कुलदेवी या कुलदेवता का नाम लिए बिना जो पूजा कि जाती है वो सफल नहीं होता है।
  • भगवान को तिलक जरूर लगाएं और केवल ताजे और साफ फूल ही भगवान को अर्पित करें।
  • पूजा करते समय भगवान को भोग भी जरूर लगाएं और पूजा के बाद भोग को प्रसाद के रूप में लोगों में बांटे दें।
  • अक्सर कई लोग पूजा करते समय अगरबत्ती का प्रयोग करते हैं जो कि सही नहीं माना जाता है। क्योंकि शास्त्रों में पूजा के दौरान केवल दीपक या धूप जलाने का ही जिक्र किया गया है। इसलिए  पूजा के दौरान अगरबत्ती का प्रयोग ना करें।
  • पूजा हमेशा शांत मन से ही करें।
  • लाल रंग के आसन पर बैठकर ही भगवान के नाम का जाप करना चाहिए। वहीं आरती हमेशा खड़े होकर ही करनी चाहिए।
  • पूजा करने के बाद तुलसी के सामने भी दीपक जरूर जलाएं।
  • पूजा पूरी होने पर मंदिर को बंद रखें या किसी कपड़े से ढक दें।

पूजा के अलावा कीर्तन करने से भी कुछ नियम जुड़े होते हैं। जिनके बारे में भी आपको जानकारी जरूर होनी चाहिए।

कीर्तन करते समय ना करें ये भूल

कई लोगों द्वारा हर हफ्ते एक बार कीर्तन जरूर किया जाता है। कीर्तन करते समय भक्ति गीत गाए जाते हैं और भगवान से जुड़ा पाठ किया जाता है। कीर्तन के दौरान भी कई तरह की चीजों का ध्यान रखना पड़ता है। जो कि इस प्रकार हैं।

  • कीर्तन करते समय केवल भगवान के नाम का ही जाप करें।
  • अगर आप किसी कीर्तन  में जाते हैं तो इधर उधर की बातें ना करें।
  • कीर्तन में हमेशा साफ वस्त्र ही पहनकर जाएं।
  • कीर्तन शुरू होने से पहले अपने हाथों पर कलावा जरूर बांधे।
  • भगवान को केवल साफ फल ही चढ़ाएं और कीर्तन के बाद मिले प्रसाद को किसी के साथ सांझा ना करें।