बॉलीवुड

महानायक की जान बचाने के लिए बाल ठाकरे ने किया था ये काम, तब बची मुश्किल से जान

एक दौर था जब महाराष्ट्र में बाल ठाकरे का नाम बहुत ही शान और इज्जत के साथ लिया जाता था। वे राजनीति करते थे लेकिन किसी के साथ नाइंसाफी नहीं होने देते थे। मगर उनके बेट उद्धव ठाकरे ने उनका नाम मिट्टी में मिलाने का पूरा इंतजाम कर लिया है लेकिन जो लोग बाल ठाकरे को नजदीक से जानते हैं वे उनका सम्मान आज भी दिल से करते हैं। उनमें से एक हैं अमिताभ बच्चन जिनकी दोस्ती बाल ठाकरे से काफी नजदीक रही है। एक दौर ऐसा भी था जब महानायक की जान बचाने के लिए बाल ठाकरे ने किया था ये काम, चलिए बताते हैं ऐसा क्या हुआ था?

महानायक की जान बचाने के लिए बाल ठाकरे ने किया था ये काम

बाल साहेब ठाकरे की पुण्यतिथि पर हम आपको ऐसा किस्सा बताने जा रहे हैं जिसमें उन्होंने अमिताभ बच्चन की मदद की थी। अमिताभ बच्चन ने इस बात खुलासा किया था कि वे आज बाला साहेब की वजह से जिंदा हैं। टाइम्स नाउ की एक रिपोर्ट के मुताबिक, फिल्म कुली की शूटिंग के दौरान अमिताभ बच्चन गंभीर रूप से घायल हो गए थे और उनकी हालत इतनी खराब हो गई थी उन्हें तुरंत अस्पताल जाना पड़ा। उस दिन मुंबई का मौसम काफी खराब था जिसके चलते एंबुलेंस उन तक पहुंचना मुश्किल हो रहा था। उस समय उनकी मदद शिवसेना की एंबुलेंस ने की जिसे बाला साहेब ने तुरंत उपलब्ध कराया और इस बारे में अमिताभ बच्चन ने बताया, ‘बाल ठाकरे ने मेरी तब मदद की जब मुझे मदद की सबसे ज्यादा जरूरत थी। अगर उस समय वे मदद के लिए नहीं आते तो शायद आज मैं जिंदा भी नहीं होता।’ एक कार्यक्रम के दौरान बच्चन साहब ने पुरानी यादों को ताजा करते हुए बताया, ‘ठाकरे परिवार के साथ मेरा पुराना संबंध रहा है। बाला साहेब के परिवार के साथ हम सभी एक परिवार की तरह ही रहे हैं।’

अमिताभ बच्चन ने इस बारे में आगे बताया, ‘जया और मेरी जब शादी हुई थी तब बाला साहेब ने मुझे बुलाया। मैं उनसे मिलने पहुंचा था तो उन्होंने मुझसे कहा तुमने अब शादी कर ली है तो अपनी पत्नी को घर लेकर आओ। मैं उनके घर गया और आई ने जिस तरह अपने घर में मेरा स्वागत किया वो बहुत ही ऐसा था जैसे उनकी ही बहू घर आई हो। तभी से हमारा ठाकरे परिवार के साथ पारिवारिक संबंध बन गया। उनका स्नेह, आदर और प्यार देखकर मुझे हमेशा उनकी याद आती रहेगी। जब मेरे जीवन में कोई ऐसी घड़ी आई जब हमें उनसे थोड़ी प्रेरणा लेनी हो तो मैं उनके पास चला जाता था। वे हमारा हाथ पकड़कर हमारा मार्गदर्शन कराते थे।’ अमिताभ बच्चन के अलावा लता मंगेशकर भी बाला साहेब के करीबी थीं, बाला साहेब लता जी को अपनी बहन मानते थे और कई बार उन्होने उनसे राखी भी बंधवाई है। 17 नवंबर, 2012 में बाला साहेब का दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया था।

Back to top button