चुटकुले

चटपटे चुटकुले: प्रेमिका की जीभ में निकल आए छाले, बॉयफ्रेंड ने बताई ऐसी वजह कि हंसना नहीं रुकेगा

डिप्रेशन एक ऐसी चीज हैं जो अच्छे अच्छे लोगो को बर्बाद कर के रख देता हैं. इसका ना सिर्फ आपके हेल्थ पर बुरा असर पड़ता हैं बल्कि आपका करियर और मानसिक स्थिति भी बिगड़ जाती हैं. इस डिप्रेशन या दुःख से बाहर निकलने का सबसे आसान उपाय चुटकुलों की दुनियां में खो जाना हैं. जोक्स एक ऐसी चीज हैं जो सभी को पसंद आते हैं. यदि आप अपने दैनिक जीवन में इन्हें रोजाना पढ़ना शुरू कर दे तो आपकी सभी चिंताओं का अंत हो जाएगा. वैसे भी जोक्स पढ़ हंसने से आपकी सेहत भी चंगी रहेगी. डॉक्टर्स भी अपने मरीजों को रोजाना हंसने की सलाह देते रहते हैं. आप लोगो ने गार्डन में भी कई लोगो को सुबह सुबह साथ मिल हँसते हुए देखा ही होगा. ऐसे में जोक्स आपको डेली हंसाने का काम बड़ी बखूबी निभाते हैं. तो चलिए फिर बिना किसी देरी के इन जोक्स को पढ़ते हैं और हंसी की दुनियां में खो जाते हैं.

टीचर – क्लास में लड़ाई क्यों नहीं करनी चाहिए?
पप्पू – क्योंकि पता नहीं परीक्षा में कब
किसके पीछे बैठना पड़ जाए.

जज – तुमने पुलिस ऑफिसर की जेब में
माचिस की जलती हुई तीली क्यों रखी??
पप्पू – उसने ही कहा था,
जमानत करवानी है तो पहले जेब गर्म करो।
इसलिए मैने उसकी जेब में जलती हुई तीली रख दी.

दो महिलाएं कुछ समय बाद मिलीं तो एक ने पूछा –
बहन आपने राजू बेटे का उंगली चूसना कैसे छुडाया ?
दूसरी महिला- कुछ खास नहीं उसकी नेकर ढीली सिल दी हैं ,
वह उसे ही पकडे रहता हैं |

प्रेमी – मैं उस लड़की से शादी करुंगा, जो मेहनती हो,
सादगी से रहती हो, घर को संवारकर रखती हो, आज्ञाकारी हो!
प्रेमिका – मेरे घर आ जाना, ये सारे गुण मेरी नौकरानी में हैं.

मासाब : बच्चों जा बताओ के अगर हम रोटी ,
सब्जी खात हैं तो हम शाकाहारी भए के मासाहारी ?
बच्चा : मासाहारी .
मासाब : काय रे मासाहारी कैसे भय हम ??
बच्चा : तुम हमोरो को दिमाग तो खात रहत हो दिन भर .

क्लर्क – “साहब क्या आप मेहरबानी करके मुझे
पहली से दस तारीख तक की छुट्टी देंगे |
मैनेजर – लेकिन इतनी लम्बी छुट्टी की क्या जरूरत हैं ?

क्लर्क – बात यह है साहब कि मेरी अभी शादी हुई है और
मेरी पत्नी हनीमून के लिए काश्मीर जा रही है |
मेरी इच्छा है कि मैं भी उसके साथ चला जाऊं |

मासाब : बच्चों जा बताओ के रेडियो और अखबार में का अंतर है???
बच्चा : मासाब रेडियो बा चीज है जे पे बाई गाना सुनत है ,
और अखबार बा चीज है जे से बाई गान नई सुन पात .
मासाब : गलत ???
बच्चा : मासाब हम बता रए , अख़बार बा चीज है जे में बाई

पुड़ी लपेट लेट है मगर रेडियो से नई लपेट सकत .
मासाब : फिर से गलत .
बच्चा : हम बता रए मासाब ,अखबार में कबौं-२
अच्छी -२ मोड़ीओं कि फोटो दिखा जात , मगर रेडियो में नई दिखात .

आशा हैं कि आपको ये सभी जोक्स बड़े पसंद आए होंगे. यदि ऐसा हैं तो इन्हें दूसरों के साथ शेयर करने में कंजूसी ना करे. इन जोक्स को पढ़ आपके साथी लोग भी थोड़ा हंस लेंगे और अपनी चिंताओं को अलविदा कह जाएंगे.

Show More

Related Articles

Back to top button
Close