खुलासा: सेना में खाने की शिकायत करने वाले तेज बहादुर के 17 प्रतिशत फेसबूक दोस्त हैं पाकिस्तानी!

अभी कुछ दिनों पहले बीएसएफ के एक जवान तेज बहादुर ने सेना के बुरे खाने को लेकर एक वीडियो बनाया था, जो देखते ही देखते काफी वायरल हुआ था। तेज बहादुर ने अपने सीनियर अधिकारियों पर गंभीर आरोप लगाते हुए यह कहा था कि सेना के बड़े अधिकारी सैनिकों को मिलने वाले राशन को बेच देते हैं। उन्हें रात-दिन खड़े रहकर ड्यूटी करनी पड़ती है, ऐसे में इतना घटिया खाना खाकर कैसे कोई काम कर सकता है। सुबह के नाश्ते में केवल दो पराठे मिलते हैं और जो दाल मिलती है, वह पानी की तरह होती है।

पुरे देश में मच गयी थी हलचल:

इसी तरह तेज बहादुर ने अपने अधिकारियों के ऊपर कई आरोप लगाए थे। इसके बाद से सेना में जैसे हलचल ही मच गयी, सिर्फ सेना ही नहीं पुरे देश में इस मामले को लेकर काफी बहसबाजी हुई। कई लोगों ने तो यहाँ तह भी कहा कि सेना के जवानों के साथ ऐसा करना काफी निंदनीय काम है। इसके बाद से बीएसएफ तेज बहादुर पर नजर रखने लगी और आये दिन एक नया खुलासा होने लगा। लेकिन आज जो मैं आपको बताने जा रहा हूँ उसे जानकर आपके होश उड़ जायेंगे।

तेज बहादुर के हैं 3000 फेसबूक फ्रेंड:

सरकारी सूत्रों के मुताबिक तेज बहादुर के 17 प्रतिशत फेसबूक फ्रेंड पाकिस्तानी हैं। यह सुनने के बाद यक़ीनन आपके होश उड़ गए होंगे। इससे एक बात साफ़ हो गयी है कि तेज बहादुर का फेसबूक अकाउंट भारत से नहीं बल्कि पाकिस्तान से ऑपरेट हो रहा है। इस मामले की जाँच करने वाले एक अफसर ने हैरानी जताई है कि किसी रिमोट एरिया में काम करने वाले सिपाही के कैसे 3000 फेसबूक फ्रेंड हो सकते हैं। जब से तेज बहादुर के अकाउंट से वह वीडियो पोस्ट किया गया था, तब से बीएसएफ ने तेज बहादुर के अकाउंट पर नजर रखी है और उसके अकाउंट को पूरा खंगाला भी है।

जाँच के दौरान मिले कई ऐसे पोस्ट जो किये गए थे पाकिस्तान से:

इस दौरान जाँच करने वाले अधिकारी को कई ऐसे पोस्ट मिले जो पाकिस्तान से की गयी है और कई ऐसे हैशटैग भी हैं जो गंभीर मामलों का खुलासा करती हैं। आपको बता दें फेसबूक पर तेज बहादुर के नाम से 40 अकाउंट हैं, लेकिन 39 उनमें से फर्जी हैं। अधिकारी अब जाँच उन प्रॉक्सी सर्वरों की कर रहे हैं, जिनके लिए इस तेज बहादुर के अकाउंट का इस्तेमाल किया जा रहा है। ख़ुफ़िया एजेंसीयाँ इस मामले की गंभीरता से जाँच कर रही हैं। बीएसएफ इस मामले से जुड़े कुछ प्रत्यक्षदर्शियों के सामने आने की भी उम्मीद कर रही है, लेकिन अभी तक कोई भी सामने नहीं आया है। सूत्रों से एक बात और पता चली है कि तेज बहादुर के कई फॉलोवर कनाडा और तंजानिया के रहने वाले हैं। यह मामला और गहराता ही जा रहा है। आगे क्या होगा यह तो समय ही बताएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.