बॉलीवुड

शाहिद कपूर से 14 साल छोटी मीरा राजपूत ने खोला राज, शादी के 4 साल बाद बताया कैसा था शादी का अनुभव

बॉलीवुड के चॉकलेटी हीरो शाहिद कपूर के हैंडसैम लुक और दमदार अभिनय की कई लड़कियां कायल हैं. जब उन्होंने बॉलीवुड में एंट्री मारी थी तो लाखों की संख्या में लड़कियां उन पर मर मिटती थी. हालाँकि इन सभी लड़कियों का दिल तब टूट गया जब शाहिद ने साल 2015 में मीरा राजपुर से शादी रचा ली. इस शादी की दिलचस्प बात ये थी कि यह एक अरेंज मेरिज थी. लोगो को यकीन नहीं हुआ कि शाहिद जैसा बड़ा फ़िल्मी सितारा लव मेरिज की जगह अरेंज मेरिज करेगा. हालाँकि शाहिद और मीरा दोनों के लिए ये बहुत ही अच्छा साबित हुआ. आज ये दोनों अपनी शादी से बहुत खुश हैं. इनकी शादी को चार साल हो गए हैं. इस बीच इनके दो प्यारे बच्चे बीटा जेन और बेटी मिशा हुई. शाहिद और मीरा अक्सर एक दुसरे के साथ पार्टी, इवेंट और अवार्ड शो में देखे जा सकते हैं.

शाहिद और मीरा दोनों ही सोशल मीडिया पर भी बहुत एक्टिव रहते हैं. इनकी फैमिली फोटोज हमेशा वायरल होती रहती हैं. कुल मिलाकार शाहिद और मीरा वर्तमान में बॉलीवुड के बहुत पॉपुलर कपल हैं. इनके रिश्ते की एक और ख़ास बात ये हैं कि दोनों की उम्र में 14 साल का अंतर भी हैं. शाहिद मीरा से 14 वर्ष बड़े हैं. हालाँकि इसके बावजूद दोनों के बीच प्यार और सम्मान में कोई कमी नहीं आई हैं. हाल ही में शादी के चार साल बाद मीरा राजपूत ने अपने अरेंज मेरिज और शाहिद की बड़ी उम्र को लेकर कुछ खुलासे किये हैं.

Vogue मैगजीन को दिए एक इंटरव्यू में मीरा ने बताया कि उन्होंने अपनी अरेंज मेरिज को कभी एक चुनौती के रूप में नहीं लिया. उन्होंने बताया कि शाहिद का जिंदगी के प्रति जो सरल नजरिया हैं वो मुझे भा गया. इसने मुझे एडजस्ट करने में काफी मदद की. वो मुझे से बड़े हैं, अर्थात उन्होंने मुझ से ज्यादा दुनियां देखी हैं. तो यदि उनके अनुभवों से मुझे कुछ सिखने को मिलता हैं तो ये मेरे लाइफ फायदे का सौदा हैं. मीरा ने ये भी बताया कि उन्हें दिल्ली से मुंबई शिफ्ट होने में भी कोई परेशानी नहीं हुई. बल्कि उन्हें साउथ मुंबई तो बहुत पसंद आया. मीरा ने कहा कि मुंबई आने के बाद ही उन्होंने खुद को स्टाइलिश बनाया. मसलन फटी जींस वाला फेशन मैंने मुंबई में ही आकर अपनाया. शादी के पहले मेने जीवन में कभी फटी जींस नहीं पहनी थी.

एक अन्य इंटरव्यू में शाहिद ने बाते था कि इन दोनों की अरेंज मेरिज कैसे हुई. दार्सल शाहिद और मीरा दोनों का परिवार राधा स्वामी सत्संग ब्यास नामक धार्मिक संगठन से जुड़ा हुआ हैं. ये दोनों फैमिली शुद्ध शाकाहारी हैं और किसी प्रकार का कोई नशा भी नहीं करती हैं. ऐसे में दोनों परिवार ने शहीद मीरा की आपस में बात चला दी. शाहिद बताते हैं कि मीरा शाहिद से पहली बार एक आम इंसान की तरह ही मिली थी. जब हमें अकेले में बात करने भेजा था तो मैं और मीरा एक बड़े से सोफे पर काफी दूरी बनाकर बैठे थे. उस समय वो 15 मिनट निकालना मुश्किल हो रहा था. सोचा नहीं था कि बाद में इतनी आपस में बनने लगेगी कि पूरी जिंदगी साथ बिताएंगे.

Back to top button
?>