रिलेशनशिप्स

भूलकर भी अपने दोस्तों से शादी-शुदा जिंदगी की परेशानियों को ना करें शेयर, मिल सकता है धोखा!

इंसान की जिंदगी में शादी-विवाह एक अलग स्थान रखते हैं। हर कोई शादी करता है। शादी के बाद इंसान अकेला नहीं रह जाता है और उसकी जिम्मेदारियाँ भी बढ़ जाती हैं। बढ़ी हुई जिम्मेदारियों के साथ ही उसके ऊपर तनाव भी बढ़ जाता है। तनाव की वजह से ही जीवन में कई बार पति-पत्नी के बीच के सम्बन्ध भी खराब हो जाते हैं। ऐसे में हर कोई अपने दिल की बात अपने दोस्तों से करना चाहता है।

महिलाएँ करती हैं ज्यादा बातें शेयर:

शादी के बाद अक्सर महिलाएँ अपने जीवन की परेशानियों को अपनी सहेली के साथ साझा करती हैं। कई बार जब यह बात दोनों में से किसी को पता चलती है तो उनके रिश्ते और खराब हो जाते हैं। आइये आज हम आपको बताते हैं कि शादी-शुदा जिंदगी की परेशानियों को अपने दोस्तों से शेयर करने पर कौन से नुकसान हो सकते हैं।

बाते शेयर करने से होते हैं ये नुकसान:

*- दुसरे उड़ाते हैं मजाक:

जब भी आप अपनी शादी-शुदा जिंदगी के बारे में किसी और को या अपने किसी दोस्त को बताते हैं तो वह कुछ नहीं करता है। इससे कोई फायदा भी नहीं होता है, बल्कि उल्टा वह आपका मज़ाक बना देते हैं। इसलिए हर बात किसी से कहने की आदत आपको बदल देनी चाहिए।

*- नोक-झोंक:

एक कहावत है कि जहाँ दो बर्तन रहते हैं, टकराते ही रहते हैं। ठीक वैसे ही पति-पत्नी के बीच छोटी-मोटी नोक-झोंक होना आम बात है। इसका यह मतलब नहीं है कि आप इसके बारे में अपने दोस्तों को भी बता दें। यह बात जानने के बाद आपका पार्टनर दुखी भी हो सकता है। कोशिश करें की ये सब खुद ही सुलझा लें।

*- लोग लगते हैं चिढ़ाने:

एक बात आपको हमेशा याद रखने की जरुरत है कि आपके दुःख-दर्द से किसी को कोई मतलब नहीं है, लोगों को आपकी ख़ुशी से तकलीफ होती है। आपके जीवन में सच्चा साथी आपका पार्टनर ही है, इसलिए अपनी कुछ बातें दोस्तों के सामने भी जाहिर ना करें।

*- कभी ना करें अपनी आर्थिक हालत जाहिर:

कई बार कुछ लोग अपने पार्टनर की ख़ास तौर पर अपने पति की आर्थिक हालत के बारे में अपने दोस्तों से बात करते हैं। यह किसी भी लिहाज से अच्छा नहीं होता है। इससे आपके पार्टनर को केवल दुःख ही हो सकता है। इस बारे में आपको अपने पार्टनर से ही बात करनी चाहिए।

*- घर की दिक्कतों को ना बताएँ:

सबके घर में दिक्कतें होती हैं, इसका यह मतलब नहीं होता है कि अपनी हर परेशानी के बारे में आप अपने दोस्तों को बताते फिरें। इससे फायदा होने की बजाय नुकसान ही होता है। इसलिए सभी को यह प्रयास करना चाहिए कि घर की बात घर में ही रहे।

 *- निजी बातें ना करें:

अपने या अपने पार्टनर से जुड़ी हुई निजी बात का जिक्र अपने दोस्तों के सामने नहीं करना चाहिए। कई बार आपका दोस्त समय आने पर इन सभी बातों का फायदा भी उठा सकता है। कई बार इसकी मदद से दोस्त आपके बीच दरार डालने में भी सफल हो जाते हैं।

Back to top button