राजनीति

19 साल पहले चिदंबरम की तरह ही हुई थी इस नेता की गिरफ्तारी, तोड़ना पड़ा था पुलिस को दरवाजा

आईएनएक्स मीडिया केस में लंबे हाई वोल्टेज ड्रामे के बाद आखिरकार सीबीआई पूर्व केंद्रीय मंत्री पी. चिदंबरम को उनके घर से उठा ले गई। लंबे ड्रामे के बाद सीबीआई ने भले ही राहत की सांस ली हो, लेकिन चिदंबरम की नींद तो उड़ गई है। जी हां, चिदंबरम की गिरफ्तारी का ड्रामा शायद ही कोई भूल पाएगा, लेकिन ऐसा ही कुछ ड्रामा ठीक 19 साल पहले भी हुआ था। इतना ही नहीं, उस समय भी गिरफ्तारी के लिए दरवाजा नहीं खोला गया था और चिदंबरम की गिरफ्तारी में भी दरवाजे से सीबीआई की एंट्री नहीं हो पाई। तो चलिए जानते हैं कि हमारे इस लेख में आपके लिए क्या खास है?

पूर्व केंद्रीय मंत्री पी. चिदंबरम दक्षिण भारत के दूसरे ऐसे नेता हैं, जिन्हें सीबीआई जबरदस्ती उठाकर अपने साथ ले गई, क्योंकि उन्होंने जांच में सहयोग नहीं दिया। 21 अगस्त, 2019 यानि बुधवार को जैसा गिरफ्तारी का ड्रामा देखा गया…ठीक वैसा ही साल 2001 में जून के महीने में देखने को मिला था और तब भी दक्षिण भारत के एक कद्दावर नेता को ऐसे ही गिरफ्तार किया गया था। दरअसल, साल 2001 में पुलिस पूर्व मुख्यमंत्री रह चुके करुणानिधि को गिरफ्तार करने पहुंची थी और उस दौरान भी ऐसा ही जबरदस्त गिरफ्तारी ड्रामा देखने को मिला था।

दरवाजा तोड़कर अंदर पहुंची थी पुलिस

मीडिया रिपोर्ट्स की माने तो 29 और 30 जून, 2001 की रात को पुलिस पूर्व सीएम करुणानिधि को गिरफ्तार करने उनके घर पहुंची, तो दरवाजा नहीं खोला गया, जिसकी वजह से उस दिन भी खूब ड्रामा हुआ था। इतना ही नहीं, पुलिस ने घर में आने से पहले करुणानिधि को खूब धमकी भी दी थी, लेकिन फिर भी दरवाजा नहीं खुला और मजबूरन घर का दरवाजा तोड़ा गया। इतना ही नहीं, उस समय रात के डेढ़ बज रहे थे और तभी पुलिस ने दरवाजा तोड़ दिया, जिसके बाद भी काफी ड्रामा हुआ था।

डेढ़ बजे रात गिरफ्तार कर ले गई थी पुलिस

पुलिस ने करुणानिधि के रुम का दरवाजा तोड़कर रात डेढ़ बजे उन्हें घर से उठा कर ले गई। इतना ही नहीं, उस समय उन्होंने जो कपड़े पहने थे, उसी कपड़े में पुलिस उन्हें अपने साथ ले गई, जिसका ड्रामा भी पूरी रात चलता रहा, लेकिन कानून के हाथ लंबे होते हैं और उससे कोई नहीं बच पाता है। बता दें कि घर में घुसने से पहले पुलिस ने पूरे घर के फोन की लाइन को काट दिया था, ताकि वे किसी को फोन न कर सकें। इतना ही नहीं, पुलिस तो मारते पीटते करुणानिधि को घर से बाहर लेकर आई थी और उस समय उनके भी घर के सामने खूब प्रदर्शन हो रहा था।

क्यों हुए थे करुणानिधि गिरफ्तार?

बताते चलें कि पूर्व सीएम करुणानिधि पर मिनी फ्लाइओवर के निर्माण में अनियमितता का आरोप था, जिससे सरकारी राजकोष को 12 करोड़ रुपये का नुकसान हुआ था और इसी मामले में उन्हें गिरफ्तार किया गया था। उस दिन काफी ड्रामा हुआ था, जिसमें प्रदर्शन करने वाले समर्थकों ने पुलिस के साथ भी हाथापाई करने की कोशिश की थी, लेकिन पुलिस करुणानिधि को गिरफ्तार करके ही ले गई थी, जिसे आज तक कोई भुला नहीं पाया।

Back to top button