विधानसभा 2017: सर्वे – यूपी में खिलेगा ‘कमल’, राहुल-अखिलेश की जोड़ी नहीं दिखा पाएगी कमाल!

नई दिल्ली चुनाव आयोग द्वारा पांच राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनावों की तारीखों का ऐलान के साथ ही विधानसभा में होने वाले दंगल का कॉउनडाउन भी शुरु हो गया है और इसको लेकर रोज नए-नए सर्वे आ रहे हैं। इन सर्वे कि सबसे खास बात यह है कि सभी सर्वे में बीजेपी को लगभग हर राज्य में ज्यादा सीटें मिलते हुए दिखाया गया है।  अंग्रेजी न्यूज चैनल टाइम्स नाऊ प्री पोल सर्वे में दावा किया गया है कि उत्तर प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी बहुमत के साथ सरकार बना सकती है। एक तरफ जहां यूपी में समाजवादी पार्टी दोबारा सत्ता हासिल करने के लिए जोर लगा रही है तो वहीं दूसरी ओर बीजेपी भी यूपी की सत्ता पर काबिज होने के लिए पूरा जोर लगा रही है। Up polls survey bjp get majority.

टाइम्स नाऊ का सर्वे, बीजेपी को यूपी में मिलेंगी 202 सीटें –

Up polls survey bjp get majority

टाइम्स नाऊ और वीएमआर द्वारा किये गए सर्वे में बीजेपी को 34 प्रतिशत वोट के साथ यूपी की 403 सीटों में से 202 सीटें मिलने कि उम्मीद कि गई है। गौरतलब है कि 2012 की विधानसभा चुनाव में भाजपा को यूपी में 47 सीटें मिली थी जिसका मतलब इस बार के चुनाव में पार्टी को 155 सीटों का फायदा हो सकता है। इसी सर्वे में कांग्रेस और समाजवादी पार्टी के गठबंधन को 147  सीटें दी गई हैं। जो 2012 की तुलना में 105 सीटें कम है। जबकि सर्वे में मायावती की बसपा पार्टी को 24  प्रतिशत वोट के साथ 47 सीटें दी गई हैं जो 2012 के चुनाव की तुलना में 33 सीटें कम है।

मुख्‍यमंत्री के रूप में अखिलेश पहली पसंद –

Up polls survey bjp get majority

समाजवादी पार्टी के घमासान और पिता मुलायम कि नाराजगी से भले ही अखिलेश यादव की लोकप्रियता में थोड़ी कमी हुई है, लेकिन टाइम्स नाऊ के सर्वे के मुताबिक वो अब भी मुख्‍यमंत्री के रूप में लोगों की पहली पसंद बने हुए हैं। सर्वे में 26 फीसदी लोगों ने अखिलेश को मुख्‍यमंत्री के रूप में अपनी पहली पसंद बताया है, जबकि 21 फीसदी लोग मायावती को मुख्‍यमंत्री देखना चाहते हैं। गृह मंत्री राजनाथ सिंह को मुख्‍यमंत्री के रूप में मात्र 3 फीसदी लोगों ने पसंद किया है।

कहां किससे है मुकाबला –  

Up polls survey bjp get majority

यूपी में सत्तारूढ सपा कांग्रेस के साथ गठबंधन से तो बीजेपी और बीएसपी अकेले दम पर चुनावी मैदान में हैं। पंजाब में अकाली-भाजपा गठबंधन का मुकाबला कांग्रेस से है लेकिन इस बार आम आदमी पार्टी भी चुनाव मैदान में अपनी किस्मत आजमा रही है। हालांकि, राजनीतिक पंडित पंजाब के विधानसभा चुनाव को आप की वजह से त्रिकोणीय मान रहे हैं। गोवा में बीजेपी और कांग्रेस के बीच होने वाले मुकाबले में इस बार आम आदमी पार्टी भी कुद पड़ी है। उत्तराखंड में बीजेपी और कांग्रेस के अलावा कई और दल भी चुनावी मैदान में हैं। मणिपुर में भी सामाजिक कार्यकर्ता से राजनेता बनी इरोम शर्मिला चुनावी मैदान में उतरने का ऐलान कर चुकी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.