विशेष

शानदार प्रदर्शन के बाद ऋषभ पंत ने बयां किया अपना दर्द, कहा- ‘बहुत ज्यादा हताश था, क्योंकि..’

भारत के युवा विकेटकीपर ऋषभ पंत को अगले वर्ल्ड कप के लिए पूरी तरह से तैयार किया जा रहा है, जिसकी वजह से उन्हें वेस्टइंडीज के खिलाफ खेली जा रही सीरीज में जगह मिली है। वेस्टइंडीज के खिलाफ टी-20 मैच में ऋषभ पंत का बल्ला पहले दो मैचों में बिल्कुल शांत रहा, जिसकी वजह वे काफी परेशान हो गए थे, लेकिन आखिरी मैच में उन्होंने धमाकेदार पारी खेलते हुए भारत को जीत दिलाई। इस जीत के बाद ऋषभ पंत का आत्मविश्वास बढ़ा और वे आगे चलकर एक बेहतरीन फीनिशर के रुप में साबित हो सकते हैं। तो चलिए जानते हैं कि हमारे इस लेख में आपके लिए क्या है?

वेस्टइंडीज के खिलाफ खेली जा रही सीरीज में भारत ने टी-20 को अपने नाम कर लिया है और अब वनडे सीरीज की शुरुआत होगी। टी-20 सीरीज में भारत ने क्लीन स्वीप किया है, लेकिन ऋषभ पंत अपने प्रदर्शन से नाखुश थे। जी हां, ऋषभ पंत ने सीरीज के बाद मीडिया से बातचीत में कहा कि वे अपने प्रदर्शन से काफी नाखुश थे, जिसकी वजह वे निराश हो गए थे, लेकिन आखिरी मैच में उन्होंने शानदार प्रदर्शन करते हुए 42 गेंदों पर 64 रन बनाए। बता दें कि ऋषभ पंत के लिए यह प्रदर्शन संजीवनी का काम करेगा, क्योंकि अब उन्हें शुरुआत मिल चुकी है।

बहुत हताश और निराश हो गया था- ऋषभ पंत

वर्ल्ड कप में मौका मिलने के बाद भी ऋषभ पंत कुछ खास कमाल नहीं दिखा पाए थे, जिसकी वजह से उनसे वेस्टइंडीज दौरे पर कप्तान को काफी उम्मीद थी, लेकिन पहले दो मैच में वे उसमें भी सफल नहीं हो पाए। ऐसे में ऋषभ पंत ने मीडिया से बातचीत में कहा कि जब वे टीम में योगदान देने में असफल होते हैं, तो खुद से निराश और हताश हो जाते हैं और उन्हें लगता है कि अब सब खत्म हो गया। इसी कड़ी में उन्होंने कहा कि पहले दो मैच में रन न बना पाने की वजह से मैं काफी दुखी था।

विराट के साथ पार्टनरशिप पर बोलें ऋषभ पंत

वेस्टइंडीज के खिलाफ आखिरी टी-20 मैच में विराट कोहली और ऋषभ पंत के बीच 106 रनों की पार्टनरशिप हुई, जिसके बाद युवा क्रिकेटर ने बड़ा बयान दिया। ऋषभ पंत ने कहा कि विराट भैय्या के साथ पार्टनरशिप करना बहुत अच्छा लगा और फिर उस दौरान हम ज्यादा से ज्यादा रन बनाना चाह रहे थे, जिसकी वजह से हमने आखिरी के ओवरों को टार्गेट किया और फिर हमे सफलता मिली। बता दें कि भारत ने इस मैच को सात विकेट से जीता, जिसमें ऋषभ पंत ने छक्का लगाकर मैच को जिताया।

वर्ल्ड कप में हुई थी आलोचना

सेमीफाइनल मुकाबले में 240 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी भारतीय टीम शुरुआत से ही लड़खड़ा गई और फिर पूरा भार ऋषभ पंत के कंधों पर आ गया। ऋषभ ने शुरुआत अच्छी की थी, लेकिन उन्होंने एक गलत शॉट मार दिया, जिसकी वजह से वे आउट हो गए। खराब शॉट मारकर आउट होने की वजह से ऋषभ पंत की खूब आलोचना हुई थी।

Show More

Related Articles

Back to top button
Close