ब्रेकिंग न्यूज़

गठबंधन: समाजवादी पार्टी-कांग्रेस के बीच प्रियंका गांधी ने ऐसे कराया गठबंधन!

लखनऊ/नई दिल्ली – सपा और कांग्रेस के बीच गठबंधन की बात आखिर प्रियंका गांधी कि वजह से अपनी मंजिल तक पहुंच ही गई। कांग्रेस द्वारा ज्यादा सीटों की मांग के कारण सपा पीछे हटने का मन बना चुकी थी, लेकिन सूत्रों के अनुसार गठबंधन के लिए सीटों का निर्धारण प्रशांत किशोर की सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव से मुलाकात के दौरान तय हुआ। इससे पहले दोनों पार्टीयों के बीच बड़ी मुश्किल से कांग्रेस को 100 के आसपास सीटें देने को राजी हुए थे लेकिन कांग्रेस 130 के आसपास सीटें मांग रही थी। sp congress alliance.

गठबंधन में प्रियंका गांधी ने निभाई अहम भूमिका –

sp congress alliance

उत्तर प्रदेश में अपने वजूद की लड़ाई लड़ रही कांग्रेस समाजवादी पार्टी के साथ चुनावी गठबंधन को अपनी बड़ी कामयाबी मान रही है। सपा और कांग्रेस के बीच सियासी दोस्ती की नई कहानी को लिखने में प्रियंका गांधी  कि भूमिका बेहद खास रही है। सीटों के बंटवारे की खींचतान में शनिवार को जब ऐसा लग रहा था गठबंधन नहीं होगा प्रियंका ने सपा प्रमुख और मुख्यमंत्री अखिलेश यादव से सीधे बात की।

खुद कांग्रेस अध्यक्ष के राजनीतिक सचिव अहमद पटेल ने ट्वीट कर लिखा था की, ‘यह सुझाव देना गलत होगा कि कांग्रेस पार्टी की ओर से लाइटवेट बातचीत कर रहे हैं। बातचीत उच्चतम स्तर पर हुई। मुख्यमंत्री (अखिलेश यादव) और महासचिव कांग्रेस एवं प्रियंका गांधी के बीच।’

प्रियंका की सक्रियता, कहीं यह 2019 की तैयारी तो नहीं –

sp congress alliance

राहुल के मुकाबले प्रियंका ने उत्तर प्रदेश में गठबंधन को अंजाम तक पहुंचाने में ज्यादा सक्रिय भूमिका निभाई। राहुल जब नए साल पर करीब दस दिन विदेश प्रवास पर थे उस दौरान प्रियंका ही सपा से गठबंधन का संचालन कर रही थीं। पार्टी इस बात पर अब राहत महसूस कर रही है कि सपा से उसका इस गठबंधन से न केवल उत्तर प्रदेश में उसके विधायकों की संख्या बढ़ जाएगी बल्कि इसने 2019 के लोकसभा चुनाव के लिए एक व्यापक सेक्यूलर गठबंधन की बुनियाद भी रखी जा चुकी है।

Related Articles

Close