‘सामना’ में शिवसेना ने लिखा- ‘गांधी परिवार की कृपा से अय्याश हो गए थे कांग्रेसी, ताला लगाओ और’ कांग्रेस को शिवसेना की नसीहत- 'दुकान पर ताला लगाकर घर बैठ जाना चाहिए।'

महाराष्ट्र में विधानसभा चुनाव से ठीक पहले शिवसेना ने कांग्रेस पार्टी पर जमकर निशाना साधा है। शिवसेना ने अपने प्रमुख पत्र सामना में कांग्रेस को लेकर एक लेख लिखा है, जिससे एक नई बहस छिड़ गई है। जी हां, शिवसेना ने सामना में जहां एक तरफ राहुल गांधी के अध्यक्ष पद को छोड़ने का साहसिक कदम बताया तो वहीं दूसरी तरफ उन पर जमकर निशाना भी साधा है। बता दें कि बीते दिनों से राहुल गांधी के इस्तीफे का ड्रामा जोरो शोरो से चल रहा है, जिस पर शिवसेना के लेख से एक नई बहस छिड़ सकती है। तो चलिए जानते हैं कि हमारे इस लेख में आपके लिए क्या खास है?

महाराष्ट्र में विधानसभा चुनाव से ठीक पहले राजनीतिक गलियारों में तीखी बहसबाजी शुरु हो चुकी है। इसी सिलसिले में शिवसेना ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि कांग्रेस वालों का शरीर हाथी का भले हो लेकिन उनका मन चूहे का है और पैर चींटी का है। इसके अलावा शिवसेना ने कांग्रेस के अस्तित्व पर सवाल उठाया है, तो वहीं दूसरी तरफ राहुल गांधी के इस्तीफे की तारीफ भी की है। इतना ही नहीं, शिवसेना ने कांग्रेस वालों को अय्याश तक भी बता डाला, जिसके पीछे की वजह भी उन्होंने बताई है।

कांग्रेस की मानसिकता पंगु

शिवसेना ने सामना में लिखा कि कांग्रेस की मानसिकता पंगु हो चुकी है, जिसकी वजह से जनता ने उन्हें सिर से खारिज कर दिया है। इसके अलावा शिवसेना ने आगे लिखा कि मोदी या भारतीय जनता पार्टी से लड़ाई की तो दूर की बात है, यहां तो कांग्रेस की तरफ से कोशिश भी नहीं की जा रही है, क्योंकि वह पंगु हो चुकी है। साथ ही शिवसेना ने अपने लेख में यह भी लिखा कि अब कांग्रेस का सिर्फ शरीर ही हाथी वाला रहा, जबकि मन चूहा और पैर चींटी हो गई है।

अय्याश हो गए थे कांग्रेसी

कांग्रेस की मौजूदा हालात पर व्यंग्य कसते हुए शिवसेना ने लिखा कि कांग्रेस वाले गांधी परिवार की वजह से अय्याश हो गए थे और उन्हें मुफ्तखोरी की आदत हो गई थी, जिसकी वजह से आज कांग्रेस का यह हाल हुआ है। साथ ही शिवसेना ने लिखा कि अभी भी कांग्रेसी सिर्फ अय्याशी ही करना चाहते हैं, जिसकी वजह से उन्हें वर्तमान राजनीतिक परिस्थितियों का जरा भी ध्यान नहीं है। बता दें कि वर्तमान समय में कांग्रेस का नेतृत्व करने वाला भी कोई नहीं है, जिसकी वजह से शिवसेना कांग्रेस को ताला लगाने की बात कह रही है।

राहुल गांधी के दरवाजे पर छाती पीट रहे हैं कांग्रेसी

कर्नाटक के मौजूदा हालात पर भी बात करते हुए शिवसेना ने लिखा कि आज कर्नाटक में बीजेपी ने कांग्रेस को खोखला कर दिया है, लेकिन कोई भी वफादार पार्टी की प्रतिष्ठा को बचाने के लिए दौड़ भाग नहीं कर रहा है, बल्कि छाती पीटते हुए राहुल गांधी के दरवाजे पर जाकर खड़े हैं। शिवसेना ने आगे लिखा कि राहुल गांधी ने इस्तीफा देकर कांग्रेस का असली चेहरा ला दिया कि उसके गिरती साख का जिम्मेदार गांधी-नेहरु नहीं बल्कि वही लोग हैं, जिन्होंने सालों से नमक खाया है, क्योंकि चार राज्यों में विधानसभा चुनाव है और सबकी सूई राहुल गांधी इस्तीफा वापस लो पर ही टिकी हुई है, कोई जिम्मेदारी लेने को तैयार नहीं है।