गरुड़ पुराण के अनुसार स्त्रियों को नहीं करने चाहिये ये चार काम…. वर्ना पछताना पड़ सकता है

कहा जाता है कि भारत की आत्मा यहाँ की परम्पराओं में बसती है और भारत की परम्पराएँ यहाँ के पुराण और उपनिषदों में, भारतीय समाज में महिलाओं का स्थान बेहद अहम् है. भारत में स्त्रियों को घर की लक्ष्मी माना जाता है. उनका मान सम्मान देवियों के जैसा होता है. गरुड़ पुराण के अनुसार स्त्रियों को अपना मान सम्मान बनाये रखने के लिये इन चार चीजों से बचने को कहा गया है.

  1. बहुत ज्यादा विरह से बचना चाहिए

गरुड़ पुराण विवाहित महिलाओं और स्त्रियों को विरह से बचने की सलाह देता है, यानी कि स्त्री को बहुत ज्यादा दिन तक पति से दूर उसके बिना नहीं रहना चाहिये. ऐसा करने से महिला की मानसिक प्रभावित होती है और महिलाएं मानसिक रूप से कमजोर होने लगती हैं. और हमारे समाज में पति से दूर रहने वाली महिला को कई तरह की दिक्कतें भी झेलनी पड़ती हैं. इसलिये स्त्री को अपने पति के साथ ही रहना चाहिये ताकि उसका मान सम्मान और परिवार बना रहे. पति के साथ स्त्री अधिक सशक्त और सुरक्षित भी रहती है

  1. बुरे चरित्र वाले लोगों का संग ना करें

अगर लोग आपको भी देते हैं इस तरह की सलाह तो हो जाएं सतर्क, टूट सकता है रिश्ता..

स्त्रियों को हमेशा इस बात का ख्याल होना चाहिये कि कोई बुरे चरित्र वाला आदमी उनके आसपास ना हो. क्यों गलत आचरण का व्यक्ति कभी भी संकट की स्थिति पैदा कर सकता है. ऐसे लोग निजी स्वार्थ और इच्छाओं के लिये सही गलत का ख्याल किये बिना कुछ भी कर सकते हैं. इसलिये किसी भी परिस्थिति में ऐसे लोगों से दूर ही रहने में भलाई होती है. क्योंकि यह लोग आपके लिये असुरक्षित हो सकते हैं साथ ही अपयश और अपमान का कारण भी बन सकते हैं.

  1. अपनों की उपेक्षा न करें

स्त्रियों को कभी भी किसी भी परिस्थिति में अपने लोगों की परिवार के लोगों की उपेक्षा नहीं करनी चाहिये. ऐसा करने पर बड़ी मुश्किलों और दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है. साथ ही, दूसरों की बड़ाई और उनपर स्नेह व्यक्त करते वक्त अपने करीबियों को नहीं भूलना चाहिये. क्योंकि अपने नजदीकी और करीबी ही बुरे वक्त के साथी होते हैं.

  1. पराए घर में न रहें

किसी भी परिस्थिति में स्त्री को अपना घर छोड़ कर पराये घर में नहीं जाना चाहिये. ऐसा करने पर महिला को कई बुरी परिस्थितियों का सामना करना पड़ सकता है. जो महिला अपने घर में नहीं रहती उसके लिये समाज की दृष्टि भी अच्छी नहीं रहती उसे हमेशा गलत नजर से देखा जाता है. जिससे उसकी छवि पर गलत असर पड़ता है. ऐसा करने से व्यक्तिगत रूप से भी बहुत समस्या को निमंत्रण हो सकता है.

देखिये वीडियो –

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.