नई दिल्ली – देश में कैशलेस और ई- पेमेंट अर्थव्यवस्था को बढ़ावा देने के लिए सरकार की तरफ से की गयी घोषणा के तीन हफ्तों के बाद अभी तक देश में 45 लोग लखपति बन चुके हैं। आपको बता दें कि सरकार ने दिसंबर, 2016 के आखिरी सप्ताह में ‘लकी ग्राहक योजना’ का ऐलान किया था जिसके तहत यह कहा गया था कि डिजिटल पेंमेंट करने वालों को हर दिन लकी ड्रॉ द्वारा लोगों को डिजिटल पेमेंट पर कैश ईनाम दिए जाएंगे। सरकार की तरफ से बताए गए 4 तरीकों से डिजिटल पेमेंट करनेवालों को बड़ा इनाम मिलेगा। National e payment reward.

 National e payment reward

कैशलेस ट्रांजेक्शन ने 45 लोगों को बनाया लखपति –

रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया की इकाई एनसीपीआई ने 15 भाग्यशाली विजेताओं के नामों की घोषणा की है, जिन्हें एक-एक लाख रुपये का इनाम दिया गया है। 15 विजेताओं को एक-एक लाख रुपये का इनाम देने अतिरिक्त हर हफ्ते अन्य 614 लोगों को 50 हजार रुपये और 6500 भाग्यशाली विजेताओं को 10 हजार रुपये दिये गये हैं। करीब 15 हजार लोगों को डिजिटल पेंमेंट करने पर सरकार कि ओर से प्रोत्साहन के रुप में सीधे प्रतिदिन 1000 रुपये की राशि भी दी जा रही है। सरकार ने पिछले साल 25 दिसंबर को डिजिटल पेंमेंट करने वालों लोगों को हर रोज लकी ड्रॉ के तहत अलग-अलग राशि बतौर इनाम देने की घोषणा की थी।

 

आप भी जीत सकते है इनाम, ऐसे होता है विजेताओं का चुनाव –

लकी ड्रॉ में केवल 9 नबंवर 2016 के बाद किये गए डिजिटल लेन-देन को शामिल किया जाता है। इसकी दूसरी शर्त यह है कि आपके द्वारा किया डिजिटल ट्रांजेक्शन आधार इनेबल्ड पेमेंट सर्विस, रुपे कार्ड, भीम ऐप या यूएसएसजी बेस्ड *99# के जरिए होना चाहिए। एनसीपीआई के चीफ प्रोजेक्ट एसके गुप्ता ने मीडिया से बातचीत के दौरान बताया कि डिजिटल लेन-देन के ट्रांजेक्शन नंबर्स को एक्सेस किया जा रहा है उसके बाद कंप्यूटर के जरिए डिजिटल ट्रांजेक्शन के नंबर को रैंडमली सेलेक्ट किया जाता है। ऑडिटर्स कि मौजूदगी में इस पूरी प्रक्रिया की वीडियो रिकॉर्डिंग की जाती है।

एसके गुप्ता ने आगे बताया कि 14 अप्रैल को मेगा प्राइज के तहत मिलना वाले एक करोड़, 50 लाख और 25 लाख रुपये के भाग्यशाली विजेताओं की घोषणा की जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.