राहुल की पप्पुगीरी शुरु! कहा – भगवान शिव-गुरु नानक-बुद्ध-महावीर सब यूज़ करते हैं कांग्रेस का निशान!

नई दिल्ली – बुधवार को कांग्रेस की जनसंवेदना रैली में बोलते हुए कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने कुछ ऐसी बातें कह दी जिसप उनका जमकर मजाक उड़ाया जा रहा है। लंदन से छुट्टियां मनाकर लौटे राहुल ने रैली में बोलते हुए कहा कि, “कुछ दिनों पहले मैं शिवजी की फोटो देख रहा था तो मैंने देखा कि शिव जी की फोटो में कांग्रेस का चुनाव का चिन्ह है। इसके बाद मैंने देखा कि गुरू नानक जी, बुद्ध जी, महावीर जैन जी और यहां तक की हजरत अली जी की फोटो में भी कांग्रेस का चिन्ह है।” इस बारे में मैंने कर्ण सिंह जी पूछा तो उन्होंने बताया कि इसका मतलब है “डरो मत”। वर्तमान परिस्थितियों से “डरो मत”। अब यह “डरो मत” शब्द का मतलब पीएम मोदी से जोड़ा जा रहा है। इसके बाद राहुल गांधी के इस बयान को लेकर लोगों ने जमकर मजे लिए है।  Funy reation on rahul speech.

मोदीफोबिया से ग्रस्त हैं राहुल गांधी –

Funy reation on rahul speech

कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने कांग्रेस पार्टी के लिए एक नया सिद्धांत दिया है  – ‘डरो मत’। लेकिन कल के उनके भाषण को सुनकर लगता है कि वे सबसे अधिक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से डरे हुए हैं। कल जनसंवेदना रैली को संबोधित करते हुए राहुल गांधी के भाषण के हर तीसरे वाक्य में मोदी का जिक्र होना इस बात का सबूत हैं कि वे मोदीफोबिया से बुरी तरह ग्रस्त हैं। राहुल का यह आरोप कि मीडिया नरेंद्र मोदी से डरकर अपनी बात खुलकर नहीं रख रही है, हास्यास्पद लगती है।

बदले-बदले दिखे राहुल, सम्मेलन की अध्यक्षता की –

Funy reation on rahul speech

राहुल गांधी ने कल ‘आपका तो लगता है बस यही सपना, राम-राम जपना गरीबों का माल अपना।’ गाने की यह लाइनें बोलते हुए और फिल्मी डायलाग से साथ कांग्रेस की जनसंवेदना रैली में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को उन्हीं के अंदाज में जवाब देते हुए कार्यकर्ताओं को हंसाया और जोश भरने में भी कमी नहीं छोड़ी। राहुल गांधी ने पीएम मोदी पर व्यंग्य कसने में कोई कसर नहीं छोड़ी। राहुल ने नए भारत के निर्माण पर तंज कसते हुए भाजपा की अंदरुनी लड़ाई की तरफ इशारा करते हुए कहा कि नए भारत का निर्माण सिर्फ और सिर्फ एक व्यक्ति नरेंद्र मोदी कर सकते हैं। राजनाथ सिंह, अरुण जेतली या सुषमा स्वराज ऐसा नहीं कर पाएंगे।

देखें वीडियो –

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!