दिल्ली में EC और IT की बड़ी कार्रवाई, ’30 दिन में 4.68 करोड़ जब्त, हर दिन मिले 15 लाख’ चुनाव आयोग और आयकर विभान ने दिल्ली में ही पिछले एक महीने में 4 करोड़ 68 लाख 19 हजार 200 रुपए पकड़े हैं।

चुनावी समर में जहां एक तरफ नेता प्रचार प्रसार में जुटे हैं, तो वहीं दूसरी तरफ चुनाव आयोग और आयकर विभाग सर्जिकल स्ट्राइक कर रहा है। जी हां, चुनावी समर में अब तक चुनाव आयोग और आयकर विभाग ने करोड़ों की रकम जब्त की है, जिसका दुरूपयोग किया जा सकता था। चुनावी माहौल में वोटरों को लुभाने के लिए पार्टियां मोटी मोटी रकम खर्च करती हैं, जिसकी वजह से कई बार धांधली का मामला भी सामने आ चुका है। इसी कड़ी में धांधली को रोकने के लिए इस बार चुनाव आयोग और आयकर विभाग ने कमर कस ली है, जिस पर काम भी पिछले एक महीने से कर रही है। तो चलिए जानते हैं कि हमारे इस लेख में आपके लिए क्या खास है?

चुनावी मौसम में मतदाताओं को लुभाने के लिए तमाम धन कुबरों ने अपनी तिजोरी खोल दी है, लेकिन इस बार इनकी तिजोरी पर चुनाव आयोग और आयकर विभाग की नज़र बनी हुई है। इसी सिलसिले में अब तक चुनाव आयोग और आयकर विभाग ने सिर्फ दिल्ली के ही विभिन्न लोकसभा क्षेत्र में करोड़ो की नगद जब्त की है। चुनाव आयोग और आयकर विभान ने दिल्ली में ही पिछले एक महीने में 4 करोड़ 68 लाख 19 हजार 200 रुपए पकड़े हैं, जोकि अपने आप में ही एक बड़ी रकम है।

चुनाव आयोग ने जब्त किए 1 करोड़ रुपये

चुनाव आयोग द्वारा दिए गए आकड़ों की माने एफएसटी/एसएसटी के तहत अब तक 1 करोड़ 28 लाख 2 हजार 200 रुपए जब्त किए हैं, जोकि अपने आप में ही एक बड़ी रकम है। बता दें कि चुनाव आयोग लोकसभा चुनाव में किसी भी तरह की धांधली होने नहीं देना चाहता है, जिसकी वजह से जगह जगह पर उसकी पैनी नजर है और किसी भी तरह के संदिग्ध चीज़ों पर तुरंत एक्शन ले रहा है। जैसाकि आप जानते हैं कि चुनावी मौसम में धन कुबेर अपनी तिजोरी से आम नागरिक पर पैसा लुटाते हैं, ताकि उन्हें वोट मिल सके है।

आयकर विभाग ने भी जब्त किए 3 करोड़ रुपये

चुनावी मौसम में किसी भी तरह की धांधली को रोकने के लिए चुनाव आयोग के साथ साथ आयकर विभाग ने भी अपनी कमर कस ली है, जिसकी वजह से पिछले तीस दिनों में 3 करोड़ 12 लाख 63 हजार रुपए की बड़ी राशि जब्त किए हैं। इसके अलावा 17 लाख 79 हजार रुपए के ज्वैलरी पकड़े गए हैं। आयकर विभाग द्वारा हर जगह पर नजर डाली जा रही है और तमाम अवैध संपत्तियों को जब्त की जा रही है, ताकि किसी भी तरह चुनाव में पैसों का लेन देन न हो।

हर दिन जब्त हुए करीब 15 लाख रुपये

उपरोक्त आकड़ों को देखा जाए तो यही सामने आ रहा है कि पिछले तीस दिनों में चुनाव आयोग और आयकर विभाग ने प्रतिदिन तकरीबन 15 लाख रुपये जब्त किए है। इतना ही नहीं, दिल्ली चुनाव आयोग के अनुसार आयकर विभाग ने आचार संहिता के दौरान 15 मार्च को 17 लाख 79 हजार रुपए की ज्वेलरी जब्त किए हैं, जिसके बाद से लेकर लगातार अब तक पैसों के लेन देन पर पैनी नजर रखी जा रही है, ताकि किसी भी तरह की हेराफेरी न हो, जिसके लिए एयरपोर्ट, बस स्टैंड और रेलवे स्टैंड पर नजर रखी जा रही है।