होंठों की सूजन को समझ रही थी मामूली इंफेक्शन, डॉक्टर ने बताया सच तो उड़ गए होश महिला ने बताया की छुट्टियॉ बिताने के लिए वे कही बाहर गयी थी जहा उन्हें कोई मच्छर ने काट लिया था

सर्दियाँ अब समाप्त हो चुकी हैं और गर्मी का मौसम अब अपने पैर पसार रहा है और इस बदलते मौसम में कई प्रकार के बीमारी भी पनपती हैं, गर्मी का मौसम सुरु हो चूका हे ओर इसके बाद बरसात का मौसम आ जायेगा अगर आपने कुछ सतर्कता नहीं बरपाया तो इस मौसम मे आपको कई प्रकार के घातक बीमारी का सामना पड़ सकता है बारिश मौसम मे नमी के कारण बैक्टरीआ, फंगस, विषाणु जैसे कीटाणु पनपते है। कुछ ऐसे कीटाणु के संपर्क मे आने से मनुष्य के शरीर पर बहुत बुरा असर करते है ओर कभी-कभी ऐसे कीटाणु से जीवन पर भी खतरनाक बना सकते है। आपकी जानकारी के लिए बता दें की कई बार ये कीटाणु इतने ज्यादा छोटे होते हे की इनके शुरुआती लक्षण जल्दी से पकड़ मे नहीं आते हैं। ऐसा ही घटना आज हम आपको बताने जा रहे है जिसके बार में जानने के बाद आप ऐसे खतरनाक कीटाणुओं से खुद का भी बचाव कर सकते ।

असल में आपको बता दें की ये वाकया हे मॉस्को की रहने वाली महिला का जिन्होंने कुछ लापरवाही से अपनी जीवन को संकट मे डाल दिया था ओर विज्ञान के जगत मे एक अनोखा केस सुनने को मिला। घटना के अनुसार ज़ब महिला के होट ओर चेहरे पर सूजन आ गयी थी तो महिला ने इसे सिंपल इन्फेक्शन समझ कर इसे इग्नोर कर दिया और ज़ब उन्हें इस सूजन से अधिक दर्द का एहसास हुआ तब बाद मे वे डॉक्टर के पास गयी जहा उन्हें कुछ टेस्ट के बाद पता चला की उनके चहरे ओर होटो पर एक खतरनाक कीटाणु का इन्फेक्शन हो चूका हैं। डॉक्टर्स ने ज़ब जांच किया तो उनके चेहरे पर पैरासाइट वार्म (परजीवी) ने जन्म ले चूका है, ये धागे के अनुरूप होटो ओर चेहरे के हिस्से मे स्तीथ हो था जिसके कारण महिला के होटो ओर चेहरे पर सूजन ओर पैरासाइट वार्म (परजीवी) के चेहरे पर चलने से उन्हें अहसनीय दर्द का सामना करना पड़ रहा था।

 

वही जांच के दौरान महिला ने बताया की छुट्टियॉ बिताने के लिए वे कही बाहर गयी थी जहा उन्हें कोई मच्छर ने काट लिया था, डॉक्टर्स का कहना है की ये जीव धागे के समान चेहरे पर स्तीथ हे ओर ये जीव आपके चेहरे पर रेंग रहा हे। ये धागे नुमा ये जीव पैरासाइट वार्म कहा जाता है| डॉक्टर्स ने इलाज के दौरान ये पाया की ये पैरासाइट वार्म (परजीवी) उनके चेहरे के अंदर ही जन्म ले चूका है। जिसका मूल वजह मच्छरों ओर कुत्तो के संपर्क मे आने से शरीर मे फैलता हैं, इस परजीवी का पता चलने से डॉक्टर्स ने तुरंत इसका इलाज किया और वे अब खतरे से बाहर है।

क्या है पैरासाइट वार्म

ये एक प्रकार का परजीवी होता है जो जानवरो ओर मच्छरों मे पाया जाता है, ये धागे की तरह होता है डॉक्टर्स का कहना है की ये परजीवी पहले इतना खतरनाक नहीं था परन्तु वातावरण के बदलने के अनुसार ये घातक हो गया है, ये जीव मनुष्य के शरीर मे 2 साल तक जीवित रह सकता हे ओर इंसानी मांस को खाकर खुराक बनाता है जिसके कारण ये बहुत ख़तरनाक साबित होते है।