समाचार

9000 करोड़ के लोन के बदले मेरी 14 हजार करोड़ की संपत्ति कर ली गयी है जब्त, फिर मैं भगोड़ा कैसे?

कारोबारी विजय माल्या ने बीजेपी पार्टी पर निशाना साधा है और कहा है कि उन्होंने बैंकों का पूरा बकाया चुका दिया है, मगर फिर भी उनके खिलाफ बीजेपी के प्रवक्ता बयानबाजी कर रहे हैं। हाल ही में शराबी कारोबारी विजय माल्या ने दो ट्वीट किए हैं और इन ट्वीट में माल्या ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के उस बयान का जिक्र किया है। जिसमें नरेंद्र मोदी ने कहा है कि भारत सरकार ने माल्या की 14 हजार करोड़ रुपये की संपत्ति जब्त कर ली है, जो कि उनके कर्ज राशि से कई अधिक है।

क्या लिखा ट्वीट में

भारत से भागकर लंदन में छुपे हुए विजय माल्या ने जो पहला ट्वीट किया है उस ट्वीट में इन्होंने कहा है कि ‘इन्होंने एक चैनल में पीएम मोदी का एक इंटरव्यू देखा है जिसमें पीएम नरेंद्र मोदी इनका नाम ले रहे हैं और कहते हुए नजर आ रहे हैं कि विजय माल्या पर बैंकों का 9000 करोड़ रुपये बकाया है, लेकिन उनकी सरकार ने माल्य की 14 हजार करोड़ रुपये की संपत्ति जब्त कर ली है। अपने इस ट्वीट में माल्य ने आगे कहा है कि जब भारत की सबसे बड़ी अथॉरिटी ने मेरे से पूरे पैसे वसूल करने की पुष्टि कर दी है। तो फिर क्यों बीजेपी पार्टी के प्रवक्ता उनके खिलाफ बयानबाजी लगातार कर रहे हैं?

इस  ट्वीट के अलावा जो एक और ट्वीट विजय माल्या ने किया है उसमें इन्होंने खुद को यूके का नागरिक बताया है और कहा है कि भारत में मुझे पोस्टर बॉय बना दिया गया है। जितना मैंने बैंक से कर्जा लिया है उससे अधिक मेरे से वसूल लिया गया हैं। मैं 1992 से यूके का नागरिक हूं। लेकिन फिर भी बीजेपी को मेरे को भगोड़ा कहना ठीक लगता है।

गौरतलब है कि पीएम नरेंद्र मोदी ने तीन दिन पहले ही एक चैनल को इंटरव्यू दिया था और इस इंटरव्यू  में मोदी ने कहा था कि विजय माल्या को दिए हुए कर्ज से अधिक की संपत्ति जब्त कर ली गई है। माल्या का कर्ज 9 हज़ार करोड़ था, लेकिन हमारी सरकार ने दुनिया भर में उनकी 14 हज़ार करोड़ की संपत्ति जब्त की। मोदी के दिए हुए इसी बयान को लेकर माल्या ने ये ट्वीट किए है।

यूके भाग गए थे माल्या

भारतीय बैंकों से 9,000 करोड़ रुपये का कर्ज लेने के बाद विजय माल्या यूके चले गए थे। जिसके बाद इन्हें लोगों ने भगोड़ा कहना शुरू कर दिया था। लंदन की एक अदालत में विजय माल्या को भारत वापस लाने को लेकर और कर्ज धोखाधड़ी का केस इनपर कर रहा है। वहीं इनसे पैसे वसूलते हुए प्रवर्तन निदेशालय ने इनके यूनाइटेड ब्रुअरीज होल्डिंग्स लिमिटेड (यूबीएचएल) के शेयरों को जब्त कर लिया था और हाल ही में उन्हें बेच दिया था। माल्या के शेयर को बेचकर ईडी को करीब  1,008 करोड़ रुपये मिले थे। इन शेयर के अलावा भारत सरकार ने माल्या की कई सारी संपत्ति को भी जब्त कर लिया है। इस तरह से माल्या से अभी तक भारत सरकार 14000 करोड़ रुपए वसूल कर चुकी है और भारत सरकार लंदन से माल्या को वापस अपने देश में लाने की कोशिश में लगी हुई है।

Back to top button