समाचार

नामांकन भरने पहुंचा उम्मीदवार, घंटों तक बैठाय रखा, फिर किया गया पुलिस के हवाले-जानें क्यों

लोकसभा चुनाव को लेकर नामांकन भरने की प्रक्रिया शुरू हो गई है और इस प्रक्रिया के तहत कई उम्मीदवारों ने अपना नामांकन भरना शुरू कर दिया है। वहीं बिहार में एक उम्मीदवार को नामांकन भरने के बाद पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। बताया जा रहा है कि ये उम्मीदवार शराब पीकर अपना नामांकन भरने के लिए आया हुआ था और नशे में होने के कारण इस उम्मीदवार को गिरफ्तार किया गया है। इस उम्मीदवार का नाम राजीव कुमार सिंह बताया जा रहा है और ये  बिहार के पूर्णिया लोकसभा सीट के लिए नामांकन भरने आया था।

बिहार राज्य में लोकसभा चुनाव के नामांकन भरने की आखिरी तारीख मंगलवार की थी और मंगलवार को पूर्णिया समाहरणालय सभागार में निर्दलीय प्रत्याशी राजीव कुमार सिंह अपना नामांकन भरने के लिए आए थे। राजीव जब नामांकन भरने के लिए आए तो उनसे शराब की बदबू आ रही थी। पुलिस के अनुसार जब राजीव अपने प्रस्तावकों के साथ पूर्णिया समाहरणालय सभागार में अपना नामांकन भरने पहुंचे तो हेल्पडेस्क में बैठे लोगों को उनसे शराब की बदबू आई। हेल्पडेस्क में बैठे कर्मचारियों ने इस बात की शिकायत अपने अधिकारियों से की। जिसके बाद अधिकारियों ने राजीव को नामांकन भरने के लिए कक्ष में जाने दिया और नामांकन भरने दिया। वहीं जब राजीव अपना नामांकन भर रहे थे तो उस वक्त अधिकारियों ने इस बात की जानकारी निर्वाचन आयेग से नियुक्त चुनाव प्रेक्षक एम शैलवेन्द्रन को दी। जैसे ही राजीव ने अपने नामांकन भरने की प्रक्रिया को पूरा किया तो उन्हें दफ्तर से बाहर नहीं जाने दिया और उन्हें रिटर्निंग आफिसर के कमरे में ही बैठाए रखा।

पुलिस ने आकर किया गिरफ्तार

अधिकारियों ने राजीव के शराब पीने की जानकारी बिहार पुलिस को दी जिसके बाद पुलिस ने आकर राजीव को गिरफ्तार कर लिया। बताया जा रहा है कि शाम पांच बजे तक नियुक्त चुनाव प्रेक्षक एम शैलवेन्द्रन पूर्णिया समाहरणालय सभागार पहुंचे गए थे और उनके आने के बाद राजीव को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। राजीव को काफी देर तक एक कमरे में ही बैठाए रखा गया है और जैसे ही सभी उम्मीदवारों ने अपना नामांकन भर दिया, उसके बाद पुलिस को बुलाया गया और पुलिस ने राजीव को गिरफ्तार कर लिया।

पी रखी थी शराब

राजीव को गिरफ्तार करने के बाद थाने ले जाया गया और पुलिस ने थाने में राजीव के शरीर में कितनी शराब थी इसकी जांच की गई। पुलिस ने जांच में पाया कि राजीव के शरीर में शराब की मात्रा 117.6 एमएल की थी। शराब पीने की पुष्टि होने परइन्हें न्याययिक हिरासत में जेल भेज दिया गया। गौरतलब है कि बिहार राज्य में शरब पीने को लेकर बैन लगा हुआ है और साल 2016 से इस राज्य में शरब पीने और बेचने पर प्रतिबंध हैं। जिसके कारण राजीव को गिरफ्तार किया गया है। राजीव भागलपुर जिले के नवगछिया अनुमंडल के नागरह गांव के निवासी हैं।

Back to top button
?>