होली में रंगों के इस्तेमाल में इस तरह बरतें सावधानियां, वरना भारी पड़ सकती है होली की खुमारी होली खेलने पर सावधानी बरतने वाले त्यौहार का पूरा मजा लेते हैं और अपने परिवार के साथ खुशियां मनाते है.

फाल्गुन महीना आते ही लोग होली की तैयारियों में जुट जाते हैं और इसके साथ ही होली कैसे और किसके साथ खेलनी है इसका भी अलग ही क्रेज रहता है. होली रंगों का त्यौहार होता है जिसे लोग कच्चा-पक्का रंग और अबीर के साथ खेलते हैं. इस खास मौके पर लोग एक-दूसरे को रंग लगाते हैं और पकवान खाकर खुशियां मनाते हैं. मगर इस खुशी में आपकी त्वचा की वजह से त्यौहार का रंग फीका ना पड़ जाए इसके लिए आपको बहुत से जतन करने चाहिए. अक्सर होली खेलते समय रंगों का इस्तेमाल चेहरे को नुकसान पहुंचाता है इसलिए होली खेलते समय रंगों का चुनाव बहुत जरूरी हो जाता है. होली में रंगों के इस्तेमाल में इस तरह बरतें सावधानियां, वरना होली में रंग में भंग मिल जाएगा और आपका मूड भी खराब रहेगा.

होली में रंगों के इस्तेमाल में इस तरह बरतें सावधानियां

होली के रंगों से त्वचा एलर्जी के दौरान त्वचा लाल होती है और खुजली भी होने लगती है. इसके अलावा अक्सर त्वचा एलर्जी के चलते आपकी स्किन पर लाल-लाल दाने निकल आते हैं जो मुश्किल से जाते हैं. इसके साथ ही होली के रंगों से कई बार आपकी त्वचा पर घाव पड़ जाते हैं और ये जख्म बढ़कर त्वचा संक्रमण का रूप भी ले सकते हैं. होली खेलने पर सावधानी बरतने वाले त्यौहार का पूरा मजा लेते हैं और अपने परिवार के साथ खुशियां मनाते है. ये सावधानियां आपके खूबसूरत चेहरे को कोमल और सुरक्षित बना सकते हैं. तो चलिए बताते हैं आपको किस तरह अपनी त्वचा को होली में सुरक्षित रखें.

त्वचा की एलर्जी से बचाव

होली खेलने से पहले अपनी स्किन पर कोई मॉश्चराइजर या लोशन लगाएं जो आपके चेहरे को किसी भी एलर्जी से बचा सकता है. इसके अलावा होली खेलने के बाद और रंगों को छुड़ाने के बाद अपनी स्किन पर कैलामाइन लोशन लगाए. इससे आप अपने चेहरे को एलर्जी होने से बचा सकते हैं.

दही से करें चेहरे का बचाव

दही का इस्तेमाल करके आप अपने चेहरे से रंगों को हटा सकते हैं. इस उपाय से आपकी स्किन को एलर्जी भी नहीं होगी और ये नमी भी बनाए रखेगा. इसके अलावा बच्चों को गहरे रंगों से दूर रखना सही रहता है क्योंकि बच्चों की त्वचा बहुत संवेदनशील होती है.

रंगों का इस्तेमाल करने में रहे सतर्क

आप केमिकल वाले रंगों का इस्तेमाल तो बिल्कुल भी नहीं करें. इसके बदले बढ़ियां गुणवत्ता और हर्बल वाले रंग का इस्तेमाल करें. इसके अलावा होली के रंगों को छुड़ाने के लिए साबुन और फेसवॉस की जगह बेसन, दही और आटे का इस्तेमाल करना बेहतर होता है. इसके बाद स्किन से होली के रंगों को उतारने के लिए ठंडे पानी का इस्तेमाल करिए.