वैलंटाइंस डे स्पेशल: प्यार की वो सच्ची कहानियां जो आज भी अमर हैं

14 फरवरी के दिन पूरी दुनिया में वैलंटाइंस डे मनाया जाता है और ये दिन लोग अपने पार्टनर के साथ मनाते हैं. प्यार से जुड़ा ये दिन प्यार करने वालों के लिए बेहद ही खास माना जाता है और इस दिन लोग अपने प्यार को लाल रंग के गुलाब जरूर देते हैं.  इस दुनिया में प्यार सदियों से चला आ रहा और प्यार से जुड़ी ऐसी कई सारी कहानियां हैं जो आज भी काफी प्रसिद्ध हैं और इन कहानी में प्यार करने वाले लोगों के नाम आज भी सबको याद हैं.

प्यार की अमर प्रेम कहानियां

लैला और मजनूं

लैला और मजनूं की कहानी आज भी लोगों को याद और इस कहानी पर कई फिल्म भी बनी हैं. लैला और मजनूं का नाम आज भी एक साथ लिया जाता हैं. लैला एक राजघराने से नाता रखती थी. मजनूं ने पहली बार लैला को मदरसे में देखा था और लैला को देखते ही मजनूं को उससे प्यार हो गया था. लैला भी मजनूं से प्यार करने लगी थी मगर जैसे ही इनके प्यार के बारे में लैला के परिवार वालों को पता चला तो उन्होंने लैला को घर में ही कैद कर लिया. कुछ समय बाद लैला की शादी भी कर दी गई और इस तरह से लैला और मजनूं को एक दूसरे से अलग कर दिया गया.  लैला और मजनूं  की इस कहानी का नाता अरब से है और इन दोनों की प्रेम कहानी को  निजामी गजनवी  जो कि एक कवि थे उन्होंने लोकप्रिय बनाया था.

शाहजहां और मुमताज महल

शाहजहां और मुमताज महल की कहानी को पूरी दुनिया में जाना जाता है. शाहजहां ने ताजमहल बनाकर अपनी इस प्रेम कहानी को आज भी लोगों के दिलों में जिंदा रखा हुआ है. मुमताज महल से शाहजहां इतना प्यार करते थे कि उनके निधन के बाद भी शाजहां ने इन्हें याद रखा और मुमताज के प्यार में ताजमहल बना दिया.

एडवर्ड और वैलिस सिम्पसन

एडवर्ड इंग्लैंड के शाही परिवार से आते थे और एक दिन उनकी मुलाकात वैलिस सिम्पसन नाम की लड़की से होती है जो कि तलाकशुदा होती है. वैलिस को देखकर ही एडर्वड को उनसे प्यार हो जाता है. लेकिन जब एडवर्ड साल 1936 में राजा बनते हैं तो उन्हें अपने प्यार और गद्दी में से किसी एक को चुनने को कहा  जाता है. जिसके बाद एडर्वड अपने शासन को छोड़ देते हैं और उसे अपने भाई को दे देते हैं. अपने भाई को राजा बनाने के बाद एडवर्ड वैलिस से शादी कर लेते हैं.

पियरे और मैरी क्यूरी

मैडम क्यूरी एक जानी मानी वैज्ञानिक है और इन्होंने नोबेल पुरस्कार भी जीत रखा है. मैडम क्यूरी की जिंदगी में भी एक बार प्यार आया था और  पियरे क्यूरी जो कि एक वैज्ञानिक थे वो मैरी से शादी करना चाहते  थे. लेकिन मैरी ने पियरे के इस प्यार को स्वीकार नहीं किया था. हालांकि कुछ समय बाद मैरी भी पियरे से प्यार करने लगी और फिर इन्होंने शादी भी कर ली थी. मगर शादी के कुछ समय बाद इनके पति को मौत हो गई थी. वहीं मैरी ने अपनी पति की मौत के बाद खुद को और अच्छा वैज्ञानिक बनाया और एक प्रयोगशाला खोलकर अपने पति को श्रद्धांजलि दी थी.