क्या आपको पता हैं कि आग में नहीं जलता है शरीर का ये हिस्सा

न्यूज़ट्रेंड वेब डेस्क: हर धर्म में व्यक्ति की मृत्यु के बाद उसका अंतिम संस्कार करने के लिए अलग-अलग तरह के नियम होते हैं। किसी धर्म में मृत को जमीन में दफन किया जाता है तो, किसी को नदी में प्रवाहित किया जाता है। उसी प्रकार से हिंदू धर्म में किसी के मृत्यु के बाद उसे अग्नि देकर उसका अंतिम संस्कार किया जात है जिसके पश्चात उसकी अस्थियों को किसी पवित्र नदी में प्रवाहित करते हैं। हिंदू शास्त्रों के अनुसार ऐसा करने से उसे मोक्ष की प्राप्ति होती है। लेकिन आज हम आपको इस अंतिम संस्कार से जुड़ी ऐसी बात बताएंगे जो शायद ही आप जानते हों। एक ऐसा प्रश्न जिसे जानने के बाद आप भी ये सोचने पर मजबूर हो जाएंगे कि आखिर ऐसा कैसे हो सकता है, और ये भी कि आपके दिमाग में आज तक ये सवाल कभी क्यों नहीं आया, अगर आया भी तो आपने उस पर कभी गौर क्यों नहीं किया। तो चलिए आपको बताते हैं कि आखिर क्या है वो  सवाल।


सवाल- सवाल यह है कि शरीर का ऐसा कौन सा अंग है जो आग में जलने के बाद भी नहीं जलता?

बता दें कि इस सवाल का जवाब आपको शास्त्रों में मिल जाएगा, लेकिन इस बात पर आपने कभी गौर नहीं किया होगा। तो अब इस सवाल का जवाब भी हम आपको बता ही देते हैं।

जवाब-  बता दें कि इस सवाल का जवाब है “नाखून”। नाखून हमारे शरीर का एक ऐसा हिस्सा होते हैं जो आग में नहीं जलते हैं। और अस्थियों के साथ ही नाखूनों को भी पवित्र नदी में प्रवाहित किया जाता है।

अब मन में ये सवाल भी आ रहा होगा कि आखिर ऐसा होता क्यों हैं। मिथकों की मानें तो ऐसा भी कहा जाता है कि जब व्यक्ति की मृत्यु हो जाती है तो उसके बाद भी व्यकित के शरीर के नाखून और बाल बढ़ते रहते हैं। हालांकि अभी ये पूरी तरह से प्रमाणित नहीं हुआ है। लेकिन ऐसा माना जाता है क्योंकि नाखून और बाल मृत कोशिकाओं से मिलकर बने होते हैं जिस वजह से वो इंसान की मृत्यु के बाद भी बढ़ते हैं।