शादी को हुए महज 1 घंटे, साथ में खाया खाना और उसके बाद हो गया तलाक, वजह जान उड़ जाएंगे आपके होश

न्यूज़ट्रेंड वेब डेस्क: शादी एक ऐसा रिश्ता और एक ऐसा बंधन जिसे सिर्फ एक जन्म का नहीं बल्कि सात जन्मों का रिश्ता माना जाता है। ऐसा कहा जाता है कि जब शादी होती है तो वो सिर्फ दो लोगों को नहीं जोड़ती है बल्कि दो परिवारों को भी एक करती है। इस शादी के साथ दो परिवार भी एक होते हैं। लेकिन आज हम आपको एक ऐसी शादी के बारे में बताएंगे जिसने शादी के महज कुछ घंटो के बाद ही उनका तलाक हो गया और उसकी वजह थे उनके घर वालें।

जी हां, वर-वधू दोनों ही पक्षों के लोगों ने पहले तो साथ में शादी को  एंज्वयाए किया, फिर उसके बाद एक साथ खाना खाने के फैसला उनके लिए इतना भारी पड़ जाएगा, उन्होंने कभी सपने में भी नहीं सोचा होगा।

ये मामला अहमदाबाद के गोनडल का हैं, जहां पर बड़ी ही धूम-धाम से शादी हुई, बारात आई उसका स्वागत हुआ फिर वरमाला हुई, जिसके बाद बारी आई दूल्हा-दुल्हन के साथ में खाना खाने की। वर और वधू दोनों ही पक्ष के लोग खुशियों का जश्न मना रहे थे। पंडिंत जी हैं दूल्हा-दुल्हन की शादी कराई, सात फेरे हुए और वो दोनों सात जन्मों के लिए एक होने के वादा करके अपनी इस खुशी को मना रहे थे। जिसके बाद दोनों परिवार वालों ने साथ में बैठकर खाना खाने की बात की और सभी एक साथ खाना खाने के लिए बैठ गए।

डिनर टेबल पर कई तरह के व्यंजन परोसे गए, दूल्हा-दुल्हन के साथ सभी खाना खाने के लिए बैठ गए, लेकिन तभी खाने के बीच में ही दोनों पक्षों के बीच किसी बात को लेकर कहा-सुनी होने लगी। बात इतनी बढ़ गई कि सिर्फ बातों ही नहीं बल्कि मामला मारपीट तक आ पहुंचा, सभी एक-दूसरे पर बर्तन फेंकने लगें।

मामले को बढ़ता देख उसे शांत कराने के लिए पुलिस को बीच में आना पड़ा तब जाकर दोनों पक्ष शांत हुए, लेकिन इस लड़ाई के शांत होने के साथ ही कुछ ही घंटों पहले पति-पत्नी बना जोड़ा एक-दूसरे से अलग हो गया। उसी वक्त वहीं पर दोनों पक्षों ने अपनी वकील को बुलाया और लड़का-लड़की का तलाक करा दिया।

दूल्हें ने शादी में मिले सभी उपहारों को वापस कर दिया और बिना दुल्हन को विदा कराए ही वापस चला गया। आपको भी ये घटना सुनकर थोड़ा अजीब लग रहा होगा, लेकिन ऐसा सच में हुआ, सात जन्मों का वादा करने वाले दुल्हा-दुल्हन सात घंटे भी एक साथ नहीं बिता पाए।

अगर यहां पर बात लड़का और लड़की की करें तो उनके मन में उस समय क्या बीत रहा होगा  इस बात को शायद ही कोई जानता हो, कुछ समय पहले जिसके साथ सात वादें लिए और सात जन्मों का साथ देने की कसमें खाई उसके साथ महज कुछ ही घंटे बिताने के बाद ही एक-दूसरे से अलग हो गए। इसलिए सही ही कहा जाता है कि शादी सिर्फ दो इसंनों को नहीं बल्कि दो परिवारों को भी एक करती है। और जब दो परिवार ही एक नहीं हो पाए तो भला वो दोनों कैसे अपनी जिंदगी साथ में  बिताते शायद यही सोचकर दोनों ने एक-दूसरे को तलाक दे दिया होगा।