कादर खान के बेहद करीब थे गोविंदा, उनके निधन पर गोविंदा ने कह दी ये बहुत बड़ी बात, सुन कर आप भी..

साल 2019 ने जैसे ही दस्तक दी वैसे ही बॉलीवुड के दिग्गज अभिनेता ने अपनी आंखे बंद कर ली, जिसके बाद बॉलीवुड जगत को एक झटका लगा. अभिनेता कादर खान ने 81 साल की उम्र में दुनिया को अलविदा कह दिया, उनका निधन कनाडा के एक अस्पताल में हो गया. इस खबर की पुष्टि उनके बेटे सरफराज खान ने मीडिया से करी, कादर खान लंबे अरसे से बीमार चल रहे थे और अभी कुछ हफ्तों से कनाडा के एक अस्पताल में वेंटिलेटर पर मुश्किल से सांसे ले पा रहे थे. इसी बीच कादर खान के सभी शुभचिंतकों ने अपना-अपना दुख जाहिर किया और कादर खान के बेहद करीब थे गोविंदा, उनके निधन के बाद दिया बयान, उन्होंने अपने इस बयान से हर किसी को इमोशनल कर दिया.

कादर खान के बेहद करीब थे गोविंदा, उनके निधन के बाद दिया बयान

कादर खान के साथ बहुत सारी फिल्मों में काम कर चुके अभिनेता गोविंदा ने कादर खान के निधन पर गहरा शोक जाहिर किया है. जहां एक ओर महानायक और रवीना टंडन बहुत दुखी हैं वहीं दूसकी ओर गोविंदा ने एक ऑडियो क्लिप जारी की है जिसमें अपना दुख जाहिर किया है.

दुखभरी आवाज में गोविंदा ने कगा, ”जनाब कादर खान साहब आज हमारे बीच नहीं है, वो सिर्फ मेरे उस्ताद ही नहीं बल्कि पिता की तरह थे. ऐसी कैफियत थी उनके हाथों में कि जिस भी आर्टिस्ट के साथ वो रहे, साथ दिया और हाथ दिया. वो स्टार हुआ सुपरस्टार हुआ. ये पूरी फिल्म लाइन और मेरा घर परिवार, हम सब, ये सब अफसोस लफ्जों में बयान नहीं कर सकते. मैं खुदा से दुआ करता हूं कि आपकी रूह को सुकून मिले, वो आपको जन्नत नसीब करवाए.” गोविंदा और कादर खान की जोड़ी को लोग पसंद करते थे और जब ये दोनों पर्दे पर आते थे तब फिल्म सुपरहिट का टैग ले जाती थी. कादर खान ने अपने फिल्मी करियर में लगभग 300 फिल्मों में काम किया जिसमें से ज्यादातर सुपरहिट फिल्में गोविंदा के साथ ही उन्होंने की. गोविंदा ने कादर खान के साथ कॉमेडी फिल्मों में अक्सर उनके बेटे का किरदार ही निभाया है जिसके बाद गोविंदा कादर को असल में अपना पिता समझने लगे थे. इस बात का जिक्र वो कई बार अपने इंटरव्यूज में कर चुके हैं.

गोविंदा और कादर खान की फिल्में

कादर खान अक्सर फिल्मों में गोविंदा के पिता या ससुर बनते थे. फिल्मों में इनकी नोक-झोंक लोगों क हंसा-हंसाकर लोट-पोट कर देती थी. साल 1973 में कादर खान ने फिल्म दाग से अपने करियर की शुरुआत की जिसके बाद सुहाग, मुकद्दर का सिकंदर, कालिया, याराना जैसी कई हिट फिल्मों में काम करने के बाद कादर खान ने 90 के दशक में गोविंदा के साथ पर्दे पर आग ही लगा दी. कादर ने गोविंदा के साथ हीरो नंबर-1, कुली नंबर-1, साजन चले ससुराल, राजा बाबू, आंटी नंबर-1, हसीना मान जाएगी, आंखे, आग, जोरू का गुलाम, कुंवारा, अनाड़ी नंबर-1, छोटे सरकार और दूल्हे राजा जैसी कई सुपरहिट फिल्मों में काम किया. उस दौर में ऐसा माना जाता था कि जब पर्दे पर गोविंदा, कादर खान और डेविड धवन की तिकड़ी उतरती थी तो बड़े-बड़ों की छुट्टी कर देती थी.