हिन्दू से शादी न करने के बावजूद सिंदूर क्यों लगाती हैं स्मृति ईरानी? जानिए क्या है सच्चाई

इस दुनिया में हर किसी की अपनी व्यक्तिगत जिंदगी होती है जिसमें वो कुछ भी कर सकता है और उसे किसी का हस्तक्षेप नहीं पसंद आता लेकिन अगर एक सेलिब्रिटी का कोई व्यक्तिगत जीवन नहीं होता है. वो अगर कुछ अलग कर रहे हैं तो उन्हें आम जनता को बताना पड़ता है कि वो ऐसा क्यों कर रहे हैं.

कुछ ऐसा ही किया भारतीय जनता पार्टी से केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने, दरअसल उन्होंने पारसी धर्म में प्रेम विवाह किया था फिर भी वो सिंदूर लगाती हैं ये बड़ा सवाल हर किसी के मन में खूब था और सोशल मीडिया पर इसकी आलोचना भी होती थी. हिन्दू से शादी न करने के बावजूद सिंदूर क्यों लगाती हैं स्मृति ईरानी? तो लोगों के इस सवाल का जवाब स्मृति ने सोशल मीडिया के ट्विटर हैंडल से ही दिया है.

हिन्दू से शादी न करने के बावजूद सिंदूर क्यों लगाती हैं स्मृति ईरानी?

बीजेपी में स्मृति ईरानी को तेज और कुशल वक्ता माना जाता है. वो बात अलग है कि साल 2014 में वो राहुल गांधी से लोकसभा चुनाव हार गई थीं लेकिन फिर भी उन्हें मोदी सरकार की कैबिनेट में टेक्सटाइल मिनिस्टर का ओहदा मिला था. जिसके बाद उनकी शिक्षा को लेकर आलोचनाएं हुईं क्योंकि वो 12वीं भी ठीक से पास नहीं थी फिर स्मृति ने ट्विटर द्वारा अपनी स्नातक और परास्नातक की डिग्री दिखाई.

ये तो हुई उनकी प्रोफेशनल लाइफ अब अगर बात करें स्मृति की पर्सनल लाइफ की तो उन्होंने साल 2001 में अपनी सहेली मोना के पूर्व पति जुबैन इरानी के साथ शादी की थी. इसके बाद उन्हें दो बच्चे भी हुए और इनका पारिवारिक जीवन सुखमय बीत रहा है. इस बीच लोगों के मन में सवाल आया कि पारसी होने के बावजूद स्मृति सिंदूर क्यों लगाती हैं. इसके बाद स्मृति ईरानी ने जवाब दिया कि उन्होंने शादी भले ही पारसी से की हो लेकिन वो एक पंजाबी परिवार से बिलॉन्ग करती थीं और उसी धर्म को अपना मानती हैं. वो पारसी धर्म के रीति-रिवाजों को भी करती हैं लेकिन अपने धर्म का पालन करना भी उनका ही कर्तव्य है. पिछले दिनों जब गोत्र बनाने की बातें हो रही थीं तब राहुल गांधी ने अपना गोत्र बताया और फिर स्मृति को भी बताना पड़ा. तब उन्होंने बताया था कि उनके पिता का गोत्र कौशल था और वो एक ब्राह्मण थे वो पिता के हिसाब से ही आज भी अपना गोत्र कौशल ही मानती है.

बेहतरीन एक्ट्रेस रह चुकी हैं स्मृति

23 मार्च, 1976 को दिल्ली में जन्मी स्मृति ईरानी पहले स्मृति मल्होत्रा थीं. इन्हें मॉडलिंग का बहुत शौक था और कॉलेज के दिनों में स्मृति अक्सर मॉडलिंग में भाग लेती थीं. साल 1999 में इन्हें एकता कपूर का पॉपुलर शो क्योंकि सास भी कभी बहू थी करने का मौका मिला. साल 2000 में ये शो ऑनएयर हुआ और उसमें स्मृति ने लीड एक्ट्रेस तुलसी का किरदार निभाया था. इस किरदार ने स्मृति को इतनी लोकप्रियता दिलाई कि वो रातों-रात स्टार बन गईं और उन्हें लोग तुलसी के नाम से ही पहचानने लगे. ये सीरियल स्टार प्लस पर लगभग 10 साल प्रसारित हुआ और इसके साथ ही इन्होंने थोड़ी जमी थोड़ा आसमा, विरुद्ध, कविता, मनीबेन जैसे कई शोज किए.