राजनीति

अंडमान में फंसे 1400 पर्यटक, बचाव के लिए नेवी को मौसम साफ होने का इंतजार

अंडमान/नई दिल्ली – अंडमान के हैवलॉक में भारी बारिश के कारण करीब 1400 पर्यटक फंसे हैं। जिन्हें बचाने के लिए अंडमान के स्थानीय प्रशासन ने भारतीय नौसेना से मदद मांगी गयी थी, जिसके बाद नेवी के चार जहाजों जहाज – INS Bitra, Bangaram, Kumbhir व LCU 38 को इस काम पर लगाया गया है। लेकिन वहां मौसम इतना खराब है कि पोर्ट ब्लेयर से हैवलॉक तक पहुंचने में दिक्कत आ रही है Tourists stranded in Havelock Island.

लोगों को सुरक्षित निकालने के लिए पोर्ट ब्लेयर में एक कंट्रोल रूम बनाया गया है, जिसे मौसम विभाग द्वारा मौसम की जानकारी भी दी जा रही थी। डमान निकोबार के गवर्नर जगदीश मुखी ने लोगों को मौसम के सुधरने तक घर के अंदर ही रहने को कहा है।

अंडमान में है तीनों सेनाओं का बेस –

Tourists stranded in Havelock Island

हालात की गंभीरता को देखते हुए भारतीय नेवी ने चार जहाजों को टूरिस्टों को निकालने के लिए भेजा गया है। अगर मौसम ऐसे ही खराब रहा तो फिर पर्यटकों को परेशानी हो सकती है। हैवलॉक में खाने की आपूर्ति सीमित ही है। अंडमान निकोबार की राजधानी पोर्ट ब्‍लेयर में एक एयरपोर्ट भी है। साथ ही बाकी द्वीपों की तुलना में इसका संपर्क बाकी हिस्‍सों से बेहतर है। यहां पर आर्मी, नेवी और एयरफोर्स तीनों का ही बेस भी है। इसके अलावा कोस्‍ट गार्ड भी यहां मौजूद है। बारिश के चलते उड़ानें भी प्रभावित हुई है। अंडमान निकोबार द्वीपसमूह में अगले 48 घंटे भारी बारिश की संभावना बनी हुई है।

पोर्ट ब्‍लेयर पहुंचने में लगता है चार घंटे का समय –

Tourists stranded in Havelock Island

 

पोर्ट ब्लेयर और हैवलॉक के बीच की दूरी 25 नॉटिकल मील यानि करीब 50 किलोमीटर है। मौसम काफी खराब होने के कारण नेवी द्वारा भेजे गए जहाज हैवलॉक तक नहीं पहुंच पा रहे हैं जिसके कारण राहत कार्यों में देरी हो रही है। अहम मुद्दा यह है कि पर्यटक कितनी तेजी से नेवी के शिप्‍स की ओर से आ सकते हैं। इसके अलावा तूफान की वजह से समुद्र का रुख भी इस बात को निर्धारित करेगा कि कितनी जल्‍दी पर्यटकों को पोर्ट ब्‍लेयर तक लेकर आया जा सकता है।

Back to top button
?>