राजनीति

भाजपा के अगले मिशन की तैयारी हो गयी पूरी, जानिये अब क्या करने वाली है बीजेपी?

पांच राज्यों के आए विधानसभा नतीज़ों से जहां एक तरफ विपक्ष फुली नहीं समा रही हैं तो वहीं दूसरी तरफ बीजेपी ने सबक लेते हुए आगे की तैयारियां शुरू कर दी है। जी हां, चुनावों के सेमीफाइनल में हार के बाद बीजेपी ने फाइनल को पूरे जोश और होश के साथ जीतने की तैयारियां शुरू कर दी है। बीजेपी ने अपने अगले कदम की शुरूआत करने के लिए ज्यादा वक्त नहीं लगाया, बल्कि जनादेश को स्वीकार करते हुए फटाफट लोकसभा चुनाव की तैयारियों में जुट गई। तो चलिए जानते हैं कि हमारे इस लेख में आपके लिए क्या खास है?

बीजेपी के चाणक्य कहे जाने वाले अमित शाह ने लोकसभा के रण को भेदने की तैयारी यूं तो पहले से ही कर लिया है, लेकिन विधानसभा चुनाव के नतीज़ों के बाद इसमें तेज़ी दिखने को मिल रही है। बीजेपी आगामी लोकसभा चुनाव में प्रचंड बहुमत के साथ सरकार बनाने के लिए एक रणनीति बना चुकी है, जिस पर वह आगामी रविवार से काम करना शुरू कर दी है। इतना ही नहीं, इस रणनीति की कमान खुद पीएम मोदी और बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह अपने हाथों में ले सकते हैं।

हुंकार रैली से करेंगे विपक्ष का सूपड़ा साफ

आगामी रविवार यानि 16 दिसंबर से बीजेपी हुंकार रैली की शुरूआत करेगी, जिसके तहत आगामी लोकसभा चुनाव की नींव रखी जाएगी। इस रैली के ज़रिए बीजेपी कार्यकर्ता महिलाओं को जोड़ने का प्रयास करेंगे। इतना ही नहीं, इस रैली में बीजेपी ने सभी कार्यकर्ताओं को शामिल होने का आदेश भी दिया है। इसके अलावा आगामी लोकसभा में जीत का झंडा फहराने के लिए बीजेपी 29 दिसंबर को केदरानाथ में एक बड़ी रैली करेगी, जिसमें लगभग 1500 आरडब्लूए के शामिल होने की संभावनाए जताई जा रही है।

पीएम मोदी हो सकते हैं शामिल

मीडिया रिपोर्ट्स की माने तो कार्यकर्ताओं का हौसला बुलंद करने के लिए पीएम मोदी खुद इस रैली में शामिल हो सकते हैं। दरअसल, पीएम मोदी के इस रैली में शामिल होने से कार्यकर्ताओं में एक अलग ही जोश देखने को मिलता है और वह पहले के मुताबिक और भी अच्छे तरीके से काम करने लगते हैं। ऐसे में पीएम मोदी अपनी तरफ से पूरी कोशिश करेंगे कि पार्टी के कार्यकर्ताओं के हौसलों बढ़ाने के लिए इस रैली में शामिल हो सके।

कार्यकर्ताओं को राजनीति का पाठ पढ़ाएंगे अमित शाह

राजनीति के चाणक्य कहे जाने वाले अमित शाह इस नीति के तहत कार्यकर्ताओं को राजनीति का पाठ पढाएंगे। जी हां, अमित शाह हुंकार रैली के ज़रिए कार्यकर्ताओं का चुनावी मंत्र देते हुए नजर आएंगे, जिसके तहत वे आगे पार्टी को ज़मीनी स्तर पर मजबूत बना सकेंगे। बता दें कि किसी भी पार्टी की जीत उसकी कार्यकर्ताओं के मेहनत की वजह से होती है, ऐसे में पार्टी आलाकमान अपने कार्यकर्ताओं को खुश रखने की पूरी करती है।

महिला सशक्तिकरण पर होगा फोकस

बीजेपी के इस रैली में महिलाओं पर जमकर फोकस होगा। जी हां, इस रैली में बीजेपी महिला कार्यकर्ताओं को यह मंत्र दिए जाएंगे कि आखिर वह केंद्र सरकार के कामकाज को महिलाओं के सामने किस तरह से रखे। इतना ही नहीं, बीजेपी के इस रणनीति में यह भी शामिल है कि महिलाओं के सामने केंद्र सरकार की सिर्फ महिला सशक्तिकरण वाली योजनाओं का ही कार्यकर्ता ज़िक्र करेंगे, जिससे आधी आबादी बीजेपी के खेमे में हो जाए। बहरहाल, बीजेपी की इस रणनीति से विपक्ष क्लीन बोल्ड होती है या नहीं, यह तो खैर वक्त ही बताएगा।

Related Articles

Close